नई पोस्ट करें

Stock Market में रहेगी तेजी या आएगी गिरावट? कौन से फैक्टर तय करेंगे बाजार की चाल, यहां जानें

2022-09-30 02:14:43 918

मेंरहेगीतेजीयाआएगीगिरावटकौनसेफैक्टरतयकरेंगेबाजारकीचालयहांजानेंखुशखबरी: दूसरे दिन लगातार सस्‍ते हुए पेट्रोल-डीजल, कच्‍चे तेल में कमजोरी का मिला फायदा******Good News Petrol diesel price 25 march 2021 dropped today in india check per litre citywise rate listअंतरराष्‍ट्रीय बाजार में कच्चे तेल के दाम में आई नरमी से देश के उपभोक्ताओं को गुरुवार को लगातार दूसरे दिन पेट्रोल और डीजल की कीमतों में थोड़ी राहत मिली है। देश की राजधानी दिल्ली में लगातार दो दिनों में पेट्रोल 39 पैसे प्रति लीटर सस्ता हो गया है और डीजल का भाव 37 पैसे प्रति लीटर घट गया है। इंडियन ऑयल की वेबसाइट के अनुसार, दिल्ली, कोलकाता, मुंबई और चेन्नई में पेट्रोल के दाम घटकर क्रमश: 90.78 रुपये, 90.98 रुपये, 97.19 रुपये और 92.77 रुपये प्रति लीटर हो गए हैं। डीजल की कीमतें भी दिल्ली, कोलकाता, मुंबई और चेन्नई में घटकर क्रमश: 81.10 रुपये, 83.98 रुपये, 88.20 रुपये और 86.10 रुपये प्रति लीटर हो गई हैं। में दिल्ली और मुंबई में 21 पैसे, कोलकाता में 20 पैसे जबकि चेन्नई में 18 पैसे प्रति लीटर की कटौती की गई। वहीं, डीजल का भाव दिल्ली और कोलकाता में 20 पैसे जबकि मुंबई में 22 पैसे और चेन्नई में 19 पैसे प्रति लीटर कम हो गया है।अंतरराष्‍ट्रीय वायदा बाजार इंटरकांटिनेंटल एक्सचेंज (आईसीई) पर ब्रेंट क्रूड के मई डिलीवरी अनुबंध में गुरुवार को बीते सत्र से 1.72 फीसदी की नरमी के साथ 63.30 डॉलर प्रति बैरल पर कारोबार चल रहा था। बता दें कि आठ मार्च को ब्रेंट क्रूड का भाव 71.38 डॉलर प्रति बैरल तक उछला था जोकि इस साल का सबसे ऊंचा स्तर है। न्यूयॉर्क मर्केंटाइल एक्सचेंज (नायमैक्स) पर डब्ल्यूटीआई के मई अनुबंध में बीते सत्र से 1.96 फीसदी की गिरावट के साथ 59.98 डॉलर प्रति बैरल पर कारोबार चल रहा था।आईआईएफएल सिक्योरिटीज के वाइस प्रेसीडेंट (एनर्जी व करेंसी रिसर्च) अनुज गुप्ता ने बताया कि कोरोना के फिर से गहराते प्रकोप के चलते अंतर्राष्ट्रीय बाजार में तेल की खपत पर असर पड़ने की आशंका बनी हुई है, लिहाजा, कीमतों पर आगे भी दबाव बना रह सकता है। वहीं कच्चे तेल में नरमी रहने से भारतीय उपभोक्ताओं को आने वाले दिनों में पेट्रोल और डीजल के दाम में और राहत मिल सकती है।अंतरराष्‍ट्रीय बाजार में कच्चे तेल में आई नरमी के बाद देश में पेट्रोल और डीजल के दाम में बुधवार को 24 दिनों की स्थिरता के बाद तेल मार्केटिंग कंपनियों ने कटौती की थी। बुधवार को डीजल 17 पैसे और पेट्रोल 18 पैसे सस्ता हुआ था।

मेंरहेगीतेजीयाआएगीगिरावटकौनसेफैक्टरतयकरेंगेबाजारकीचालयहांजानेंEngland Squad for ODI and T20i: इंग्लैंड ने किया टीम का ऐलान, स्टोक्स नहीं खेलेंगे टी20 सीरीज, विराट का दुश्मन भी बाहर******Highlightsइंग्लैंड और भारत के बीच पांचवां टेस्ट मैच आज यानी शुक्रवार से एजबेस्टन में शुरू हो चुका है। बेन स्टोक्स की कप्तानी में पहली बार इंग्लैंड की टीम भारत के खिलाफ खेल रही है। इस बीच इंग्लैंड क्रिकेट बोर्ड (ईसीबी) ने भारत के खिलाफ होने वाली सीमित ओवरों की सीरीज के लिए टीम को घोषणा कर दी है। ईसीबी ने टी20 सीरीज के लिए 14 और वनडे सीरीज के लिए 15 सदस्यीय दल का ऐलान किया है। जोस बटलर पहली बार इंग्लैंड की कप्तानी करते दिखेंगे। उन्हें गुरुवार को ही इंग्लैंड क्रिकेट ने सीमित ओवर टीम का नया कप्तान बनाने का फैसला किया था।इंग्लैंड क्रिकेट की तरफ से जारी आधिकारिक बयान के मुताबिक टेस्ट टीम के कप्तान बेन स्टोक्स टी20 सीरीज में नहीं खेलेंगे और वनडे सीरीज में वापसी करेंगे। जबकि टीम के स्पिनर आदिल रशीद हज पर जाने की वजह से टीम का हिस्सा नहीं होंगे।रशीद के ना होने से विराट को यहां राहत मिल सकती है, क्योंकि इंग्लिश स्पिनर के आगे भारतीय बल्लेबाज संघर्ष करते नजर आते हैं। आंकड़ों में समझें तो टी20 में दोनों 11 बार एक-दूसरे के आमने-सामने आए हैं। इसमें रशीद ने दो बार विराट को आउट किया है। इसमें भी पिछले दोनों बार विराट रशीद की गेंद पर ही आउट हुए हैं। जबकि वनडे में विराट को रशीद ने आठ बार की भिड़ंत में तीन बार आउट किया है।जोस बटलर (कप्तान), मोईन अली, हैरी ब्रुक, सैम कुरेन, रिचर्ड ग्लीसन, क्रिस जॉर्डन, लियाम लिविंगस्टोन,डेविड मलान, टाइमल मिल्स, मैथ्यू पार्किंसन, जेसन रॉय, फिल साल्ट, रीस टोपली, डेविड विलीजोस बटलर, (कप्तान), मोईन अली, जोनी बेयरस्टो, हैरी ब्रुक, ब्रायडन कारसे, सैम कुरेन, लियाम लिविंगस्टोन, क्रेग ओवरटन, मैथ्यू पार्किंसन, जो रूट, जेसन रॉय, फिल साल्ट, बेन स्टोक्स, रीस टोपली,डेविड विलीमेंरहेगीतेजीयाआएगीगिरावटकौनसेफैक्टरतयकरेंगेबाजारकीचालयहांजानेंकरवा चौथ 2021 : करवा चौथ पर दिखना चाहते हैं खूबसूरत तो फॉलो करें ये आसान टिप्स******किसी भी शादीशुदा महिलाके लिए खास त्योहारों में से एक होता है। इस दिन महिलाएं अपने पति की सुरक्षा और लंबी उम्र के लिए पूरे दिन उपवास रखती हैं और फिर रात मेंचांद को अर्घ्य देकर पूजन करने के बाद व्रत खोलती है। करवा चौथा एक ऐसा दिन है, जहां इस दिन हर महिला एक दुल्हन की तरह तैयार होती है। शादी के बाद पहला करवा चौथ हो या दूसरा, इस दिन हर महिला को सजने-संवरने का बेहद शौक होता है। ऐसे में इस करवा चौथ पर ये टिप्स ट्राई कर सकती हैं।करवा चौथ के दिन अक्सर महिलाएं हैवी मेकअप करती हैं। हालांकि, अगर आप नेचुरल लुक चाहती हैं तो इस दिन न्यूड मेकअप अप्लाई करें। दरअसल, करवा चौथ के दिन महिलाएं हैवी साड़ी, ज्वैलरी और बहुत चीजें पहनती हैं, ऐसे में कोशिश करें कि मेकअप लाइट या फिर न्यूड रखें। यह आपके लुक को खूबसूरत बनाएगा और आप दूसरों से अलग दिखेंगी। फाउंडेशन अप्लाई करते वक्त अपने स्किन टोन का ध्यान रखें। इस बात का ध्यान रखें कि मेकअप अप्लाई करने के बाद मेकअप फिक्सर जरूर स्प्रे करें।ऐसा कई बार देखा जाता है कि केवल आंखों को हाईलाइट कर देने से इसकी खूबसूरती बढ़ जाती है। आई मेकअप करते समय अपनी साड़ी लुक को एक बार जरूर देख लें। कई बार काजल और आईलाइनर से आंखों की खूबसूरती बढ़ जाती है, लेकिन आप आईशैडो का इस्तेमाल कर रह रही हैं तो अपनी साड़ी के कलर से मिलता-जुलता टच दें। यह आपके लुक को और खूबसूरत करेगा। इस बात का खास ख्याल रखें कि करवा चौथ के दिन आई मेकअप करते वक्त ज्यादा एक्सपेरिमेंट न करें बल्कि मेकअप लाइट रखने की कोशिश करें।करवा चौथ के दिन अक्सर महिलाएं अपने बालों को खुला रखती हैं, ऐसे में इसे अधिक समय तक संभाल पाना मुश्किल हो जाता है। खुले बालों में गजरा लगाने पर यह ठहरता नही है औरगिर जाता है, लेकिन बन के साथ इसके गिरने का डर नहीं होता। हालांकि, इस दिन कई महिलाएं बन बनाती हैं, ऐसे में आप कुछ अलग दिखना चाहती हैं तो सामने से कोई हेयर स्टाइल बना सकती हैं।करवा चौथ के दिन लाल रंग का खास महत्व होता है, क्योंकि यह सुहागन का प्रतीक होता है। इसलिए इस दिन ज्यादातर महिलाएं रेड लिपस्टिक लगाना पसंद करती हैं। हालांकि, अगर आपकी साड़ी का कलर डार्क है तो रेड लिपस्टिक न लगाएं। वहीं रेड लिपस्टिक के लाइट शेड ट्राई कर सकते हैं।

Stock Market में रहेगी तेजी या आएगी गिरावट? कौन से फैक्टर तय करेंगे बाजार की चाल, यहां जानें

मेंरहेगीतेजीयाआएगीगिरावटकौनसेफैक्टरतयकरेंगेबाजारकीचालयहांजानेंWeather Update: अगले 3 दिनों में इन राज्यों में हो सकती है भारी बारिश, IMD ने जताया पूर्वानुमान******Highlights आगामी कुछ दिनों में पूर्वी और मध्य भारत के कई हिस्सों में भारी बारिश होने की संभावना है। इंडियन मेट्रोलॉजिकल डिपार्टमेंट (IMD) ने इसकी संभावना जताई है। IMD के मुताबिक, बंगाल की खाड़ी और उसके पड़ोस के ऊपर एक निम्न दबाव का क्षेत्र बना हुआ है, जो 19 अगस्त की सुबह तक डिप्रेशन में बदलने की संभावना है। इस कारण, अगले 3 दिनों के दौरान पूर्व-मध्य भारत में भारी से बहुत भारी वर्षा होने का पूर्वानुमान IMD ने जताया है।IMD ने बताया है कि '19 से 20 अगस्त के दौरान ओडिशा, गंगीय पश्चिम बंगाल और झारखंड में गरज व चमक के साथ मध्यम से काफी व्यापक बारिश होने की संभावना है, 20 से 21 अगस्त के दौरान विदर्भ, 19 से 21 अगस्त के दौरान छत्तीसगढ़ और पूर्वी मध्य प्रदेश और 20 से 22 अगस्त के दौरान पश्चिम मध्य प्रदेश में भारी बारिश का पूर्वानुमान है।’IMD के मुताबिक, 19 अगस्त को पश्चिम बंगाल और सिक्किम में, 20 अगस्त को विदर्भ, झारखंड और ओडिशा में, 21 अगस्त को पूर्वी मध्य प्रदेश में और 22 अगस्त को पश्चिमी मध्य प्रदेश में भारी से बहुत भारी वर्षा होने की उम्मीद जताई है। इस बीच, 19 अगस्त को उत्तरी ओडिशा में, 20 अगस्त को उत्तरी छत्तीसगढ़ में भारी बारिश होने का अनुमान है।भारत के पश्चिमी हिस्सों में भी बारिश हो सकती है। मौसम विभाग के पूर्वानुमान के मुताबिक 19 से 22 अगस्त के बीच पश्चिम राजस्थान और गुजरात में गरज और चमक के साथ मध्यम से काफी तेज बारिश की संभावना है। वहीं, 20 से 22 तारीख के दौरान पूर्वी राजस्थान, कोंकण और गोवा में, मध्य महाराष्ट्र के घाट क्षेत्रों में 21 से 22 अगस्त तक बारिश का पूर्वानुमान है। आईएमडी ने 21 और 22 अगस्त को पूर्वी राजस्थान में बहुत भारी वर्षा का पूर्वानुमान जताया है।उत्तर पश्चिमी हिमालयी क्षेत्र और उत्तरी मैदानी इलाकों में भी भारी बारिश हो सकती है। मौसम विभाग ने कहा, 20 तारीख को जम्मू-कश्मीर और पंजाब में 19 और 20 तारीख को उत्तराखंड, 19 और 21 तारीख को हिमाचल प्रदेश और पश्चिम उत्तर प्रदेश में अलग-अलग स्थानों पर गरज-चमक के साथ मध्यम से भारी बारिश होने की संभावना है। आईएमडी के पूर्वानुमान के मुताबिक 21 अगस्त को दक्षिण हरियाणा और 19-20 अगस्त को पूर्वी उत्तर प्रदेश में बारिश होगी। असम, मेघालय, मिजोरम और नागालैंड सहित पूर्वोत्तर राज्यों में 20 अगस्त तक गरज चमक के साथ बौछारें पड़ने की संभावना है।मेंरहेगीतेजीयाआएगीगिरावटकौनसेफैक्टरतयकरेंगेबाजारकीचालयहांजानेंMaharashtra: महाराष्ट्र में मंत्रिमंडल का विस्तार जल्द, विदर्भ क्षेत्र होगा विकास: फडणवीस******Highlights महाराष्ट्र सरकार के विधानसभा में विश्वास मत हासिल करने के एक दिन बाद उप मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने कहा कि राज्य के मंत्रिमंडल का विस्तार जल्द ही किया जाएगा। नागपुर हवाई अड्डे पर मंगलवार को पत्रकारों से बात करते हुए फडणवीस ने राज्य के विदर्भ क्षेत्र के विकास को लेकर भी आश्वासन दिया। उन्होंने कहा, ''मंत्रिमंडल का विस्तार जल्द किया जाएगा।'' राज्य में नई सरकार के गठन के बाद अपने गृहनगर नागपुर पहुंचने पर, भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के कार्यकर्ताओं ने उप मुख्यमंत्री का भव्य स्वागत किया। फडणवीस के साथ उनकी पत्नी अमृता फडणवीस भी मौजूद थीं।फडणवीस ने 'जल्लोष यात्रा' शुरू कीहवाई अड्डे से, भाजपा के नेता ने अपने समर्थकों द्वारा आयोजित की गई 'जल्लोष यात्रा' शुरू की। गौरतलब है कि एकनाथ शिंदे के पिछले महीने शिवसेना के खिलाफ बागी रुख अख्तियार करने के बाद महाराष्ट्र की उद्धव ठाकरे नीत महा विकास आघाड़ी (एमवीए) सरकार के गिरने की नौबत आ गई, क्योंकि अधिकतर विधायकों ने शिंदे गुट का साथ देने का फैसला किया था। इसके बाद 30 जून को शिंदे ने महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री पद की और फडणवीस ने उप मुख्यमंत्री पद की शपथ ग्रहण की थी। सोमवार को एकनाथ शिंदे सरकार ने महाराष्ट्र में विश्वास मत जीत लिया। उनके समर्थन में 164 वोट पड़े, जबकि विरोध में 99 वोट डाले गए। विश्वास मत जीतने के बाद देवेंद्र फडणवीस ने सभी सदस्यों का आभार जताते हुए कहा, '' जिन सदस्यों ने इस प्रस्ताव के समर्थन में वोट डाला है उन सभी सदस्यों का मैं आभारी हूं।'' शिंदे ने मांगा था समयशिंदे ने सोमवार को विधानसभा में विश्वास मत जीतने के बाद कहा था कि उनके और फडणवीस के विभागों के आवंटन पर चर्चा करने से पहले, उन्हें कुछ समय चाहिए। शिंदे ने कहा था, 'हमें शांति से सांस लेने दें। यह सब (हालिया राजनीतिक घटनाक्रम) काफी उथल-पुथल भरा था। मैं और फडणवीस बैठकर मंत्रिमंडल और विभागों के बंटवारे पर चर्चा करेंगे। हम भाजपा के राष्ट्रीय स्तर के नेताओं से भी बात करेंगे।'मेंरहेगीतेजीयाआएगीगिरावटकौनसेफैक्टरतयकरेंगेबाजारकीचालयहांजानेंPM Modi gifts to Qaud Leaders: गोंड कला पेंटिंग से लेकर नक्काशीदार बक्से तक... जानें PM मोदी ने क्वाड में किसको कौनसा गिफ्ट दिया******Highlightsप्रधानमंत्री ने क्वाड में शामिल ऑस्ट्रेलिया, अमेरिका और जापान के नेताओं को मंगलवार को गोंड कला की पेंटिंग, सांझी कला का एक नमूना और लकड़ी का नक्काशीदार बक्सा भेंट किया। अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन को मोदी ने एक राष्ट्रीय पुरस्कार विजेता द्वारा मथुरा के ठकुरानी घाट की थीम पर आधारित एक सांझी ‘पैनल’ भेंट किया। कागज पर हाथ से डिजाइन करने की कला सांझी उत्तर प्रदेश में कृष्ण के जन्मस्थल माने जाने वाले मथुरा की एक विशिष्ट कला शैली है। परंपरागत रूप से, भगवान कृष्ण की कहानियों के रूपांकन ‘स्टेंसिल’ में बनाए जाते हैं। इन ‘स्टेंसिल’ को कैंची या ब्लेड का उपयोग करके काटा जाता है और नाजुक सांझी को अक्सर कागज की पतली शीट पर उकेरा जाता है।सूत्रों ने बताया कि प्रधानमंत्री मोदी ने ऑस्ट्रेलिया के नवनिर्वाचित प्रधानमंत्री एंथनी अल्बनीज को मध्य प्रदेश से संबंधित गोंड कला की पेंटिंग भेंट की। गोंड पेंटिंग आदिवासी कला के विशिष्ट रूपों में से एक है। गोंड शब्द ‘कोंड’ शब्द से बना है जिसका अर्थ है ‘हरा पर्वत।’ बिंदुओं और रेखा द्वारा बनाई गई ये पेंटिंग, गोंड समुदाय के लोगों के घरों की दीवारों और फर्श पर सचित्र कला का एक हिस्सा रही हैं और इसे स्थानीय प्राकृतिक रंगों और सामग्री जैसे कोयला, मिट्टी, पौधे का रस, पत्ते, गाय का गोबर और चूना पत्थर पाउडर के जरिए तैयार किया जाता है। गोंड कला और ऑस्ट्रेलिया की अबोरजिनल कला के बीच काफी समानता है। अबोरजिनल लोगों की कहानियां उसी तरह की हैं जैसे गोंड लोगों की सृष्टि के बारे में है।प्रधानमंत्री मोदी ने अपने जापानी समकक्ष फुमियो किशिदा को रोगन पेंटिंग के साथ लकड़ी का नक्काशीदार बक्सा उपहार दिया। सूत्रों ने कहा कि यह कलाकृति दो अलग-अलग कलाओं-रोगन पेंटिंग और लकड़ी पर नक्काशी का एक संयोजन है। रोगन पेंटिंग गुजरात के कच्छ जिले में प्रचलित कपड़ा छपाई की एक कला है। इस शिल्प में, उबले हुए तेल और वनस्पति रंगों से बने पेंट को धातु के ब्लॉक (प्रिंटिंग) या स्टाइलस (पेंटिंग) का उपयोग करके कपड़े पर छापा जाता है। 20 वीं शताब्दी के अंत तक यह कला लगभग समाप्त हो गई जब केवल एक परिवार रोगन पेंटिंग के काम से जुड़ा था। रोगन शब्द फारसी से आया है, जिसका अर्थ है वार्निश या तेल। रोगन पेंटिंग बनाने की प्रक्रिया बहुत श्रमसाध्य और दक्षता वाली होती है।प्रधानमंत्री मोदी ने जापान के पूर्व प्रधानमंत्रियों योशीहिदे सुगा, योशिरो मोरी और शिंजो आबे को पत्तामदै रेशम की चटाई भेंट की। के तिरुनेलवेली जिले का एक छोटा सा गांव पत्तामदै, तमिरापरानी नदी के तट पर उगाई जाने वाली कोरई घास से रेशम की चटाई बुनने की एक अनूठी परंपरा का पारंपरिक स्थल है।

Stock Market में रहेगी तेजी या आएगी गिरावट? कौन से फैक्टर तय करेंगे बाजार की चाल, यहां जानें

मेंरहेगीतेजीयाआएगीगिरावटकौनसेफैक्टरतयकरेंगेबाजारकीचालयहांजानेंLondon to Delhi: जब दिल्ली से लंदन तक चलती थी बस, पहुंचने में लगते थे 80 दिन, रास्ते में मिलते थे डकैत और ऊंचे पहाड़ा, किन खतरों का सामना करते हुए पहुंचते थे लोग******Highlights: दिल्ली से लंदन की दूरी 20 हजार किलोमीटर से अधिक है और यह दूरी अक्सर उड़ान द्वारा तय की जाती है। अब जल्द ही लोग बस से भी लंदन जा सकेंगे। हालांकि, यह पहली बार नहीं होगा जब लोग भारत से लंदन का सफर बस से करेंगे। ऐसा पहले भी हो चुका है और उस समय यह अपने आप में एक रिकॉर्ड था। आज भी लोग सोशल मीडिया पर इसकी एक फोटो शेयर कर इसकी चर्चा कर रहे हैं. आखिर वह क्या था और कैसे इस बस ने लंदन तक का सफर तय किया, जानिए।1957 में, ओसवाल्ड-जोसेफ गैरो फिशर ने 'इंडियामैन' नाम से एक बस सेवा शुरू की। यह बस 15 अप्रैल 1957 को लंदन के विक्टोरिया कोच स्टेशन से कोलकाता के लिए रवाना हुई थी। 20 हजार किलोमीटर से अधिक की उस यात्रा को रोमांचकारी अनुभव बताया गया। रेगिस्तान, जंगलों और पहाड़ों को पार करते हुए बस कोलकाता पहुंची। उस यात्रा में करीब 20 लोग लंदन से कोलकाता के लिए निकले थे और सिर्फ 7 लोगों ने ही लंदन वापसी का टिकट लिया था। बस 5 जून को कोलकाता पहुंची और 2 अगस्त 1957 को लंदन के लिए रवाना हुई।लंदन से कोलकाता का किराया £85 था और वापसी का किराया £65 निर्धारित किया गया था। यह बस फ्रांस, इटली, यूगोस्लाविया, बुल्गारिया, तुर्की, ईरान और पाकिस्तान के रास्ते भारत आई थी। ये बस 16 दिन देरी से भारत पहुंची थी। एशिया में फैली फ्लू महामारी के कारण बस को भारत आने में देरी हुई और इस वजह से इसे पाकिस्तान-ईरान सीमा पर रोक दिया गया। वह लाहौर, रावलपिंडी, काबुल, कंधार, तेहरान, वियना और ऐसे कई खूबसूरत देशों से होते हुए भारत पहुंचती थीं। यह बस गंगा, ताजमहल, राजपथ, राइन घाटी और मयूर सिंहासन से होकर गुजरती थी। उस समय यात्रियों को नई दिल्ली, तेहरान, साल्ज़बर्ग, इस्तांबुल और वियना में भी मुफ्त खरीदारी करने का अवसर मिलता था।जब बस लंदन के लिए चली थी तो एक अफवाह उड़ा दिया गया था। इस अफवाह से ब्रिटेन के अधिकारी काफी परेशान हो गए थे। आपको बता दें कि लोगों ने अफवाह बना दिया था कि ईरान से गुजरते समय सभी यात्रियों को डकैतों ने मार डाला है लेकिन कुछ ही समय बाद ब्रिटिश दूतावास के अधिकारियों को पता चला कि यह सिर्फ एक अफवाह थी और सभी यात्री सुरक्षित थे। अधिकारियों ने राहत की सांस ली, यात्रियों के लिए कॉकटेल पार्टी की व्यवस्था की। अमेरिकी अखबार न्यूयॉर्क टाइम्स ने उस यात्रा की जानकारी दी थी। बस के मालिक फिशर ने कहा कि उन्हें रास्ते में खतरनाक चोटियों और तुर्की में माउंट अरारत के तीखे मोड़ मिले लेकिन हमने इन सबका सामना किया था। उन्होंने बताया कि ईरान में रेगिस्तान के कारण बस के रेत में फंसने का खतरा बना था लेकिन हमने इस कठिन रास्ते को भी पार कर दिया था। इस क्षेत्र में अक्सर रेत के तूफान आते थे और यह बहुत गर्म भी था।बस में सवार पीटर मॉस, जो उस समय 22 वर्ष का था वो लंदन नहीं लौटा। उन्होंने पूर्व में समुद्र के रास्ते मलेशिया में अपनी यात्रा जारी रखी। उन्होंने 'द इंडियामैन' शीर्षक से एक डायरी भी लिखी थी और उसमें उन्होंने यात्रा के बारे में बहुत अच्छी जानकारी दी थी। यह यात्रा पूरी होने के बाद यह बस तीन और यात्राओं पर निकली। 1960 के दशक तक, हिप्पी के बीच इस तरह की सड़क यात्राएं बहुत लोकप्रिय हो गई थीं। ऐसी ही यात्रा पर वे भारत आने लगे। हालांकि 1970 के दशक में कई राजनीतिक और सैन्य संघर्षों के कारण सड़क मार्ग सफर करना काफी मुश्किल हो गया था इसलिए बाद में इसे बंद करना पड़ा। अब यह सफर फिर शुरू होने वाला है। एडवेंचर ओवरलैंड भारत के एक पर्यटन संचालक ने दिल्ली से लंदन की 70-दिवसीय यात्रा शुरू करने की घोषणा की है। ये बसें पोलैंड, रूस, कजाकिस्तान, चीन और म्यांमार के रास्ते लंदन पहुंचेंगी।मेंरहेगीतेजीयाआएगीगिरावटकौनसेफैक्टरतयकरेंगेबाजारकीचालयहांजानेंExclusive: टीम इंडिया में कप्तान के तौर पर हार्दिक की दावेदारी पर आरपी सिंह ने उठाए सवाल, फिटनेस को लेकर भी दी यह सलाह******अपनी कप्तानी में गुजरात टाइटंस को इंडियन प्रीमियर लीग 2022 का खिताब जिताने वाले ऑलराउंडर हार्दिक पांड्या शानदार फॉर्म में हैं। हार्दिक ने आईपीएल 2022 में गुजरात के लिए कुल 15 मैच खेले जिसमें उन्होंने 44.27 की औसत से 487 रन बनाए। इस दौरान उन्होंने चार बार अर्धशतकीय पारी खेली, जिसमें उनका सर्वोच्च स्कोर नाबाद 87 रन का रहा। वहीं गेंदबाजी में वह सिर्फ आठ विकेट ले पाए।हालांकि इस दमदार प्रदर्शन के बावजूद टीम इंडिया में हार्दिक की भूमिका पर पूर्व तेज गेंदबाज आरपी सिंह ने कई तरह के सवाल खड़े किए हैं।इंडिया टीवी के साथ खास बातचीत में आरपी सिंह ने कहा कि हार्दिक ने बेशक आईपीएल में अच्छा खेल दिखाया हैं लेकिन वह अब भी पूरी तरह से फिट नहीं हैं।उन्होंने कहा, ''आईपीएल में हार्दिक ने गुजरात टाइटंस के लिए शानदार खेल दिखाया लेकिन फिटनेस को लेकर अभी भी वह समस्याओं से जूझ रहे हैं। मैदान पर कई बार उन्हें असहज देखा गया था। ऐसे में उन्हें अपनी फिटनेस पर और अधिक काम करने की जरूरत है।''इसके साथ ही आरपी ने हार्दिक की टीम इंडिया में उनकी भूमिका पर भी अपनी बात कही। उन्होंने कहा, ''हार्दिक बेशक बल्लेबाजी में बेहतरीन खेल दिखा रहे हैं लेकिन गेंदबाजी में भी उन्हें निरंतरता दिखानी होगी। टी20 में फॉर्मेट में उन्हें बल्लेबाजी के साथ-साथ चार ओवर भी करने होंगे। सिर्फ बल्लेबाज की भूमिका में वह सार्थक नहीं हो सकते हैं।''वहीं भविष्य में टीम इंडिया की कप्तानी पर हार्दिक को लेकर आरपी सिंह ने कहा, ''टीम इंडिया की कप्तानी के लिए कई सारे दावेदार हैं। हार्दिक के लिए अभी यह दूर की बात है। उन्हें अभी सिर्फ अपने खेल पर ध्यान देने की आवश्यकता है।''

Stock Market में रहेगी तेजी या आएगी गिरावट? कौन से फैक्टर तय करेंगे बाजार की चाल, यहां जानें

मेंरहेगीतेजीयाआएगीगिरावटकौनसेफैक्टरतयकरेंगेबाजारकीचालयहांजानेंEVM की जगह Ballot Paper से हो रहे हैं हैदराबाद नगर निगम चुनाव, क्या है वजह?******इस बार होने जा रहे हैदराबाद नगर निगम (GHMC) चुनावों पर पूरे देश की नजर टिकी हुई है, लेकिन जो बात हैरान करने वाली है वह यह है कि चुनाव इलेक्ट्रोनिक वोटिंग मशीन (EVM) की जगह मत पर्ची (Ballot Paper) के जरिए हो रहे हैं। राज्य चुनाव आयोग ने बैलेट पेपर से चुनाव कराने की पूरी तैयारी भी कर ली है। आखिर क्या वजह है कि हैदराबाद नगर निगम चुनाव Ballot Paper से करवाए जा रहे हैं?इंडिया टीवी ने जब यह सवाल राज्य चुनाव आयोग के अधिकारियों से किया तो उन्होंने बताया कि कोरोना को देखते हुए और सभी राजनीतिक दलों से बात करने के बाद ही यह तय हुआ है कि चुनाव Ballot Paper से करवाए जाएं। राज्य चुनाव आयोग ने बताया कि वोटिंग मशीन पर मतदाता कुछ बटनों को बार बार दबाएंगे जिससे कोरोना के फैलने का खतरा ज्यादा है। लेकिन अगर मतदान Ballot Paper से होते हैं तो उससे कोरोना के फैलने का खतरा कम है। चुनाव आयोग के अधिकारी ने बताया कि सभी राजनीतिक दलों से बातचीत के बाद ही Ballot Paper से चुनाव कराए जाने का फैसला हुआ है।पिछली बार 2002 में हुए चुनाव के दौरान Ballot Paper का इस्तेमाल हुआ था, उस समय हैदराबाद नगर निगम में 100 वार्ड हुआ करते थे लेकिन बाद में जब ग्रेटर हैदराबाद नगर निगम का गठन हुआ और 150 वार्ड बन गए तो इलेक्ट्रोनिक वोटिंग मशीन से मतदान शुरु हुआ।हालांकि लोकसभा चुनाव और विधानसभा चुनावों के दौरान EVM का इस्तेमाल हुआ था।राज्य चुनाव आयोग ने Ballot Paper से हैदराबाद नगर निगम चुनाव कराने की पूरी तैयारी कर ली है, इन चुनावों में कुल 7444260 मतदाता हैं और चुनाव आयोग ने 8188686 Ballot Paper छपवा रखे हैं। हैदराबाद नगर निगम चुनावों में अलग-अलग राजनीतिक दलों के कुल 1122 प्रत्याशी भाग ले रहे हैं। कुल 150 वार्डों के लिए पहली दिसंबर को मतदान होगा जिसमें सत्तारूढ़ तेलंगाना राष्ट्रीय समिति ने सभी 150 सीटों के लिए प्रत्याशी उतारे हुए हैं जबकि भाजपा ने 149, कांग्रेस ने 146 और असदुद्दीन ओवैसी की AIMIM ने 51 सीटों पर अपने प्रत्याशी उतारे हुए हैं। चुनाव परिणाम 4 दिसंबर को घोषित होगा।

मेंरहेगीतेजीयाआएगीगिरावटकौनसेफैक्टरतयकरेंगेबाजारकीचालयहांजानेंJNU : प्रोफेसर शांतिश्री बनीं जेएनयू की नई वाइस चांसलर, होंगी विवि की पहली महिला कुलपति******प्रतिष्ठित जवाहरलाल नेहरू यूनिवर्सिटी (JNU) की कमान पहली बार किसी महिला के हाथ में है। पुणे यून‍िवर्सिटी की प्रफेसर शांतिश्री धुलीपुड़ी पंडित को जेएनयू का नया वाइस चांसलर नियुक्‍त किया गया है। वह जेएनयू की पहली महिला वीसी हैं। इनका कार्यकाल पांच साल का होगा। वह इससे पहले वह सावित्री बाई फुले पुणे यूनिवर्सिटी में प्रोफेसर थीं।शांतिश्री जेएनयू की 13वीं कुलपति होंगी। वह प्रोफेसर एम.जगदीश कुमार की जगह लेंगी, जिन्हें अब विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (यूजीसी) का अध्यक्ष नियुक्त किया गया है। पिछले साल जेएनयू के कुलपति के तौर पर अपने पांच साल का कार्यकाल पूरा होने के बाद से एम जगदीश कुमार कार्यवाहक कुलपति के तौर पर जिम्मेदारियों का निर्वहन कर रहे थे।शांतिश्री जेएनयू की पूर्व छात्रा हैं। उन्होंने यूनिवर्सिटी के स्कूल ऑफ इंटरनेशनल स्टडीज से 1986 में एमफिल और 1990 में पीएचडी की डिग्री हासिल की। इससे पहले उन्होंने मद्रास स्थित प्रेजिडेंसी कॉलेज से राजनीति विज्ञान में पोस्ट ग्रेजुएशन किया था। वहीं, सावित्री बाई फुले पुणे यूनिवर्सिटी से पहले वह गोवा यूनिवर्सिटी में भी पढ़ा चुकी हैं।59 साल की शांतिश्री का जन्म रूस के सेंट पीटर्सबर्ग में हुआ था। तब उनकी मां वहां के लेनिनग्रेड ओरिएंटल फैकल्टी डिपार्टमेंट में तमिल व तेलुगू विषयों की प्रोफेसर थीं।शांतिश्री की शुरुआती पढ़ाई मद्रास (अब चेन्‍नै) में हु, जेएनयू से एम.फिल में टॉप किया। फिर यहीं से पीएचडी भी की। 1996 में उन्‍होंने स्‍वीडन की उप्‍पसला यूनविर्सिटी से डॉक्‍टोरल डिप्‍लोमा हासिल किया। हिंदी, अंग्रेजी, मराठी, तमिल जैसी छह भाषाओं में दक्ष प्रफेसर पंडित कन्‍नड़, मलयालम और कोंकणी भी समझ लेती हैं।प्रोफेसर पंडित के पिता सिविल सर्विसिज में थे। टीचिंग में 34 साल से ज्‍यादा का अनुभव रखने वाली प्रफेसर शांतिश्री धुलीपुड़ी पंडित ने पुणे यूनिवर्सिटी के अलावा गोवा यूनिवर्सिटी, ओस्‍मानिया यूनिवर्सिटी, रक्षाशक्ति यूनिवर्सिटी, मद्रास यूनिवर्सिटी में भी बढ़ाया है। इसके अलावा वह केंद्र सरकार की कई अहम समितियों में भी शामिल रही हैं। अंतराष्‍ट्रीय विषयों पर बेहतरीन पकड़ रखने वाली प्रफेसर ने कई रिसर्च प्रॉजेक्‍ट्स में महती भूमिका अदा की। दुनिया के कई नामी संस्‍थानों में उनकी फेलोशिप है। राष्‍ट्रीय-अंतरराष्‍ट्रीय स्‍तर पर उन्‍हें कई सम्‍मानों से भी नवाजा जा चुका है।मेंरहेगीतेजीयाआएगीगिरावटकौनसेफैक्टरतयकरेंगेबाजारकीचालयहांजानेंIslamic Fundamentalism Propaganda:भारत में आकर इस्लामिक कट्टरपंथ का कर रहे थे प्रचार, असम से 18 मुस्लिम गिरफ्तार******Highlightsभारत में इस्लामिक कट्टरपंथ का प्रचार करने आए 17 विदेशी मुसलमानों को असम से गिरफ्तार किया गया है। इन सभी पर धार्मिक कट्टरता की दृष्टि से लोगों को उपदेश देने की साजिश का आरोप है। असम के पुलिस महानिदेशक भास्कर ज्योति महंत ने रविवार को कहा कि पर्यटक वीजा के प्रावधानों का उल्लंघन कर ‘‘धार्मिक उपदेश देने’’ के मामले में प्रदेश के बिश्वनाथ जिले से 17 आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है।पकड़े गए सभी आरोपी बांग्लादेशी नागरिक हैं, जो धार्मिक उपदेश देने के इरादे से भारत आए थे। शीर्ष पुलिस अधिकारी ने कहा कि हालांकि अब तक इन लोगों के कट्टरपंथ के प्रसार में शामिल होने के साक्ष्य नहीं मिले हैं। मगर इन आरोपों को गंभीरता से लेकर जांच की जा रही है। अगर किसी की संलिप्तता पाई जाती है तो इस मामले में उचित कानूनी कार्रवाई की जाएगी।पुलिस महानिदेशक ने कहा कि पड़ोसी देश से 'मुल्लाओं' के पर्यटक वीजा पर राज्य में आने और कट्टरपंथी विचार फैलाने सहित धार्मिक उपदेशों में शामिल रहने के कई उदाहरण हैं। महंत ने बताया कि ऐसे कई उपदेशकों के असम में प्रवेश को प्रतिबंधित कर दिया गया है। पुलिस ने कहा कि एक ‘‘धार्मिक उपदेशक’’ समेत 17 बांग्लादेशियों को बिश्वनाथ जिले के बाघमारी इलाके से वीजा नियमों के उल्लंघन के आरोप में शनिवार को गिरफ्तार किया गया। उन्होंने बताया कि 17 लोगों में से आठ फिलहाल पुलिस रिमांड पर हैं, जबकि शेष को न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है।पकड़े गए आरोपी पश्चिम बंगाल के कूचबिहार से बस से 13 सितंबर को बिश्वनाथ पहुंचे थे। महंत ने कहा कि पुलिस को बाघमारी स्थित नदी के तटीय इलाकों में शुक्रवार को इन 17 बांग्लादेशियों द्वारा धार्मिक जलसा आयोजित किए जाने की गुप्त सूचना मिली थी। पुलिस महानिदेशक ने बताया कि जांच में पता चला कि वे लोग पर्यटन संबंधी गतिविधियों के लिए नहीं आए थे, हालांकि देश में उन्होंने प्रवेश पर्यटन वीजा पर किया था। राज्य के शीर्ष पुलिस अधिकारी ने कहा, ‘‘मैं नहीं कह रहा हूं कि वे लोग कट्टरपंथी उपदेश दे रहे थे, लेकिन वे लोग कुछ धार्मिक उपदेशों में शामिल थे, जो पर्यटन वीजा के प्रावधानों के खिलाफ है। हमने उन्हें वीजा नियमों के उल्लंघन के आरोप में गिरफ्तार किया है।पुलिस महानिदेशक ने कहा कि मामले की जांच जारी है। उन्होंने कहा, ‘‘खासकर निचले असम और बराक घाटी इलाके में यह प्रचलन में है कि मौलवियों को पर्यटन वीजा पर धार्मिक उपदेश देने के लिए आमंत्रित किया जाता है और उनमें से कुछ कट्टरपंथ को बढ़ावा देते हैं। इसलिए मामले की गहराई से पड़ताल करवाई जा रही है।

मेंरहेगीतेजीयाआएगीगिरावटकौनसेफैक्टरतयकरेंगेबाजारकीचालयहांजानेंउत्तर प्रदेश: सीतापुर की कालीन फैक्ट्री में जहरीली गैस का रिसाव, सात लोगों की मौत******सीतापुर। सीतापुर जिले के बिसवां क्षेत्र में कालीन बनाने वाली एक फैक्ट्री में गुरुवार को जहरीली गैस के रिसाव के कारण एक ही परिवार के पांच सदस्यों समेत सात लोगों की मौत हो गयी। पुलिस सूत्रों ने बताया कि बिसवां थाना क्षेत्र के जलालपुर गांव में एक फैक्ट्री में अचानक जहरीली गैस रिसने लगी। इसके सम्पर्क में आने से तीन बच्चों समेत सात लोगों की मौत हो गयी।फैक्ट्री का संचालक इस घटना के बाद से फरार है। बिसवां के उपजिलाधिकारी सुरेश कुमार ने बताया कि विशेषज्ञों की एक टीम घटनास्थल पर पहुंच गयी है। राष्ट्रीय आपदा राहत बल भी मौके पर है। गैस से प्रभावित इलाके को खाली करा लिया गया है। कुमार ने बताया कि कालीन फैक्ट्री से सटी एक तेजाब फैक्ट्री में एक टैंकर धोया गया था। हो सकता है कि उसी में से निकली गैस के कारण यह घटना हुई हो। इस बीच, लखनऊ में गृह विभाग के अपर मुख्य सचिव अवनीश कुमार अवस्थी ने कहा कि घटना में एक ही परिवार के पांच सदस्यों की मौत हुई है।मृतकों में अतीक (45), उसकी पत्नी सायरा (42) और उनके बच्चों आयशा (12), अफरोज (08) और फैसल (02) शामिल हैं। इसके अलावा मोटू (75) तथा पहलवान (70) की भी इस घटना में मौत हुई है। वे सभी कानपुर के रहने वाले थे। उन्होंने बताया कि घटना के वास्तविक कारणों का पता लगाया जा रहा है। इस बीच, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने घटना पर दुख जाहिर करते हुए अधिकारियों को निर्देश दिये हैं कि वे प्रभावित लोगों को हर सम्भव सहायता उपलब्ध कराएं और दोषी लोगों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाए।मेंरहेगीतेजीयाआएगीगिरावटकौनसेफैक्टरतयकरेंगेबाजारकीचालयहांजानेंIndian Wrestlers CWG 2022: कॉमनवेल्थ गेम्स में पहलवानों का जलवा, बजरंग, साक्षी और दीपक ने जीते गोल्ड मेडल******Highlights कॉमनवेल्थ गेम्स के आठवें दिन रेसलिंग कंपिटिशन की शुरुआत हुई और देखते ही देखते भारतीय पहलवान हर तरफ छा गए। उन्होंने बर्मिंघम के रेसलिंग एरिना में जमकर जलवा बिखेरा। शुक्रवार को भारत के चार पहलवानों ने फाइनल में जगह बनाने में कामयाबी पाई। बजरंग पूनिया और दीपक पूनिया ने पुरूष वर्ग में फाइनल में जगह बनाई तो महिलाओं के वर्ग में साक्षी मलिक और अंशु मलिक ने फाइनल अपनी जगह पक्की की। इन चारों रसलर्स में सबसे पहले गोल्ड मेडल अपने नाम करने वाले पहलवान बने बजरंग पूनिया। बजरंग पूनिया ने पुरुषों के 65 किलोग्राम फ्री स्टाइल में क्वॉर्टरफाइनल बाउट से शुरुआत की जिसमें उन्होंने मारीशस के जीन बानडोऊ को बड़ी आसानी से 6-0 से हरा दिया। पूनिया ने सेमीफाइनल बाउट में इंग्लैंड के जॉर्ज राम को काफी हद तक एकतरफा मुकाबले में 10-0 से शिकस्त देकर भारत के लिए एक और सिल्वर मेडल पक्का कर दिया।फाइनल में उनका मुकाबला कनाडा के लैचलन मैकलिन से हुआ। भारतीय पहलवान को पहली बार फाइनल बाउट में जीत के लिए मेहनत करनी पड़ी। उन्होंने इस मुकाबले में कनाडा के पहलवान को 9-2 से हाराया। इस जीत के साथ पूनिया ने भारत की झोली में सातवां गोल्ड मेडल डाल दिया।भारतीय पहलवान साक्षी मलिक ने महिलाओं का 62 किलो वर्ग के फ्री स्टाइल सेमीफाइनल मुकाबले में कैमरून की पहलवान बर्थ एमिलियेन को 10-0 से हराया। इस जीत के साथ 2016 ओलंपिक की ब्रॉन्ज मेडलिस्ट ने अपना सिल्वर मेडल पक्का कर लिया। फाइनल में साक्षी का मुकाबला हुआ कनाडा की रेसलर एना गोंजालेज से। इस खिताबी बाउट में भारतीय पहलवान ने कनाडा की पहलवान को चित्त करके गोल्ड मेडल पर कब्जा जमाया। ये भारत की झोली आया आठवां स्वर्ण पदक था।भारतीय पहलवान दीपक पूनिया ने मेंस फ्री स्टाइल 86 किलो वर्ग के अपने पहले मुकाबले में न्यूजीलैंड के रेसलर मैथ्यू ऑक्सेनहम को 10-0 से हराया। पूनिया ने क्वॉर्टरफाइनल बाउट में सियरा लियोन के शेगू कासेगबामा को 10-0 से हाराया। इस जीत के साथ दीपक ने सेमीफाइनल में अपनी जगह पक्की की। भारतीय पहलवान ने सेमीफाइनल बाउट में कनाडा के एलेक्जेंडर मूर को 3-1 से हराया। फाइनल में उनका मुकाबला पाकिस्तान के पहलवान मोहम्मद इनाम से हुआ। गोल्ड मेडल बाउट में आर्च राइवल्स पाकिस्तान के रेसलर को उन्होंने 3-0 से हराया। इस जीत से भारत को एक ही दिन में कुश्ती से तीन गोल्ड मेडल मिल गए और ये उसकी झोली में आया नौवां गोल्ड मेडल भी था।भारतीय महिला पहलवान अंशू मलिक ने महिलाओं के 57 किलो वर्ग के फ्री स्टाइल सेमीफाइनल मुकाबले में श्रीलंका की पहलवान नेथमी पोरुथोटगे को बड़ी आसानी से एक मिनट से कुछ ज्यादा के समय में 10-0 से हराया। अब बारी फाइनल मुकाबले की थी, दांव पर गोल्ड मेडल था और कॉमनवेल्थ गेम्स में डेब्यू कर रहीं भारतीय पहलवान के सामने नाइजीरिया की अनुभवी रेसलर ओडुनायो एडिकुओरोए थीं। अंशू मलिक को फाइनल मुकाबले में नाइजीरिया की पहलवान एडिकुओरोए से 4-6 से शिकस्त का सामना करना पड़ा। इस हार के बावजूद वे भारत की झोली में सिल्वर मेडल डालने में सफल रहीं। ये कुश्ती से भारत की झोली में आया पहला पदक था।

मेंरहेगीतेजीयाआएगीगिरावटकौनसेफैक्टरतयकरेंगेबाजारकीचालयहांजानेंSri Lanka Crisis: श्रीलंका में भारतीय अधिकारी घायल, उच्चायोग ने नागरिकों से हालात से अवगत रहने को कहा******Highlightsश्रीलंका में तैनात भारत सरकार के एक वरिष्ठ अधिकारी बेवजह किए गए हमले में गंभीर रूप से घायल हो गए। इंडियन हाईकमीशन ने मंगलवार को यह जानकारी दी। हाईकमीशन ने भारतीय नागरिकों से श्रीलंका में नवीनतम घटनाओं से अवगत रहने और उसके हिसाब से आवाजाही करने और अन्य गतिविधियों की योजनाएं बनाने के लिए कहा है। अभूतपूर्व इकोनॉमिक क्राइसिस के कारण राजनीतिक उथल-पुथल के बाद श्रीलंका में अशांति की स्थिति बनी हुई है।कार्यवाहक राष्ट्रपति रानिल विक्रमसिंघे ने नया राष्ट्रपति चुनने के लिए बुधवार को होने वाले महत्वपूर्ण चुनाव से पहले सोमवार को आपातकाल लगा दिया। इंडियन हाईकमीशन ने एक ट्वीट में कहा कि भारत और श्रीलंका के लोगों के बीच संबंध हमेशा सौहार्दपूर्ण और मैत्रीपूर्ण रहे हैं। हाईकमीशन ने ट्वीट में कहा, ‘‘मौजूदा स्थिति में, श्रीलंका में भारतीय नागरिकों से अनुरोध है कि वे नवीनतम घटनाओं के बारे में जागरूक रहें और हालात के हिसाब से आवाजाही और अन्य गतिविधियों की योजना बनाएं। जरूरत पड़ने पर आप हमसे संपर्क कर सकते हैं।’’हाईकमीशन ने एक अन्य ट्वीट में कहा कि उसके अधिकारियों ने सुबह ‘‘भारतीय नागरिक और इंडियन वीजा सेंटर के डायरेक्टर विवेक वर्मा से मुलाकात की जो सोमवार रात कोलंबो के पास बेवजह किए गए हमले में गंभीर रूप से घायल हो गए।’’ यह मामला श्रीलंकाई अधिकारियों के ध्यान में लाया गया है। मार्च में श्रीलंका में सरकार विरोधी प्रदर्शनों की शुरुआत के बाद से संभवत: पहली बार किसी भारतीय नागरिक पर हमला हुआ है। श्रीलंका में आर्थिक और राजनीतिक उथल-पुथल के बीच भारत ने दोहराया है कि वह श्रीलंका के लोगों के साथ खड़ा रहेगा।बता दें, गोटबाया राजपक्षे के इस्तीफे के बाद विक्रमसिंघे ने शुक्रवार को कार्यवाहक राष्ट्रपति के रूप में शपथ ली। 73 वर्षीयराजपक्षेश्रीलंका छोड़कर पिछले बुधवार को मालदीव गए और फिर गुरुवार को सिंगापुर पहुंचे। उन्होंने शुक्रवार को इस्तीफा दिया था। चुनाव लड़ रहे विक्रमसिंघे ने आपातकाल लगाने का बचाव करते हुए कहा कि यह श्रीलंका में लोक सुरक्षा, लोक व्यवस्था और आवश्यक आपूर्ति और सेवाएं बहाल रखने के लिए जरूरी है। उन्होंने सुरक्षा बलों से बुधवार को होने वाले राष्ट्रपति चुनाव से पहले सरकार विरोधी हिंसक प्रदर्शनों की अनुमति नहीं देने को कहा है। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने पिछले सप्ताह कहा था कि भारत लोकतांत्रिक साधनों और मूल्यों, स्थापित संस्थानों और संवैधानिक ढांचे के माध्यम से श्रीलंका में सरकार और उसके नेतृत्व से संबंधित स्थिति के शीघ्र समाधान के लिए तत्पर है। प्रवक्ता ने कहा कि भारत आगे का रास्ता खोजने के उनके प्रयास में श्रीलंका के लोगों का हर संभव तरीके से समर्थन करें।मेंरहेगीतेजीयाआएगीगिरावटकौनसेफैक्टरतयकरेंगेबाजारकीचालयहांजानेंCSK vs PBKS: जीत के बाद मयंक का बड़ा खुलासा, अनिल कुंबले को दिया इस खिलाड़ी की खोज का श्रेय******Highlightsलियाम लिविंगस्टोन के ऑलराउंड प्रदर्शन के दम पर पंजाब किंग्स ने रविवार को इंडियन सुपर लीग मैच में चेन्नई सुपर किंग्स को 54 रन से मात दी। इस तरह चेन्नई को इस सीजन लगातार तीसरी हार का सामना करना पड़ा। IPL के इतिहास में ये पहली बार है जब चेन्नई की टीम को अपने शुरुआती 3 मैचों हार का मुंह देखना पड़ा है। वहीं, पंजाब की 3 मैचों में ये दूसरी जीत है। इस जीत के बाद कप्तान मंयक अग्रवाल ने अपने युवा खिलाड़ियों की जमकर तारीफ की।मयंक अग्रवाल ने कहा, ‘‘हमें लगा कि स्कोर में पांच-सात रन कम रह गये थे, हालांकि 180 रन का पीछा करना आसान नहीं था। हमने नयी गेंद से जैसी गेंदबाजी की, उससे मैं खुश हूं। ’’ लियाम लिविंगस्टोन ने 60 रन की पारी खेलने के बाद गेंदबाजी करते हुए दो विकेट चटकाये जिससे वह मैन आफ द मैच बने। अग्रवाल ने कहा, ‘‘मैंने लिविंगस्टोन को कुछ नहीं कहा। जब वह बल्लेबाजी करता है तो हर कोई देखता रहता है। ’’वैभव अरोड़ा ने भी जितेश शर्मा की तरह अच्छा पदार्पण किया और दो विकेट झटके। अग्रवाल ने कहा, ‘‘वह हमारे साथ दो साल है, हमने उसकी प्रतिभा देखी। जितेश शर्मा की बात है तो अनिल भाई ने उसे मुंबई इंडियंस में देखा था। उसने अच्छा प्रदर्शन किया, वह शानदार विकेटकीपर है। उनके बारे में सबसे खास उसका रवैया है। आप उसके अंदर रनों की भूख देख सकते हो, आप चाह देख सकते हो। निश्चित रूप से सकारात्मक क्रिकेट खेलना चाहता है।’’गौरतलब है कि पंजाब किंग्स ने शुरूआती झटकों से उबरने के बाद 20 ओवर में आठ विकेट पर 180 रन बनाये। पंजाब के लिए लिविंगस्टोन ने 60 रन और शिखर धवन ने 33 रनों की पारी खेली। दोनों के बीच तीसरे विकेट के लिये 95 रन की साझेदारी हुई। इसके बाद लक्ष्य का पीछा करने उतरी चेन्नई को पंजाब किंग्स के गेंदबाजों ने लगातार झटके दिये जिसमें शिवम दूबे की 57 रन की अर्धशतकीय पारी के अलावा कोई बल्लेबाज बड़ी पारी नहीं खेल सका। उनके अलावा सीएसके के पूर्व कप्तान और विकेटकीपर महेंद्र सिंह धोनी ही 23 रन बना सके। इस तरह टीम 18 ओवर में 126 रन पर ढेर हो गयी। 2018 के बाद से ये तीसरी बार है जब चेन्नई की टीम ऑलआउट हुई है।

नवीनतम उत्तर (2)
2022-09-30 02:06
उद्धरण 1 इमारत
2017-18 में 1.07 करोड़ नये करदाता जुड़े, आईटीआर छोड़ने वालों की संख्‍या घटकर पहुंची 25 लाख******Income Taxनोटबंदी को लेकर विभिन्‍न राजनीतिक पार्टियों के बीच वाद परिवाद का दौर भले ही जारी हो, लेकिन से जुड़े आकड़ों में इसका सकारात्‍मक असर साफ दिखाई दे रहा है। आयकर विभाग ने ताजा आकड़ों की घोषणा करते हुए कहा कि 2017-18 में उसने 1.07 करोड़ नये करदाता जोड़े जबकि ड्रोप्ड फाइलरों (पहले आईटीआर फाइल करने और बाद में छोड़ देने वालों) की संख्या घटकर 25.22 लाख रह गयी। यह नोटबंदी के सकारात्मक प्रभाव को दर्शाता है।एक बयान में केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड (सीबीडीटी) ने कहा कि वित्त वर्ष 2017-18 में 6.87 करोड़ आयकर रिटर्न (आईटीआर) फाइल किये गये जबकि 2016-17 में 5.48 करोड़ आईटीआर फाइल किये गये थे यानी इस मोर्चे पर 25 फीसदी वृद्धि हुई। इसी के साथ 2017-18 में आईटीआर दाखिल करने वाले नये करदाताओं की संख्या बढ़कर 1.07 करोड़ हो गयी जबकि 2016-17 में 86.16 लाख नये करदाता जुड़े थे।सीबीडीटी ने कहा, ‘‘नोटबंदी ने कर आधार और प्रत्यक्ष कर संग्रहण के दायरे में विस्तार में असाधारण रूप से सकारात्मक असर डाला। ’’ ड्रोप्ड फाइलर ऐसे करदाता होते हैं जो पहले तो आईटीआर फाइल करने वालों में शामिल होते हैं लेकिन किन्हीं तीन लगातार वित्त वर्ष में आईटीआर फाइल नहीं करते। ऐसे लोगों की संख्या 2016-17 में 28.34 लाख थी जो घटकर 2017-18 में 25.22 लाख रह गयी।सीबीडीटी ने कहा कि 2016-17 की तुलना में 2017-18 में विशुद्ध प्रत्यक्ष कर संग्रहण 18 फीसदी बढ़कर 10.03 लाख करोड़ हो गया।
2022-09-30 01:18
उद्धरण 2 इमारत
Terrorist Killed Bank Manager: कश्मीर में टीचर के बाद अब बैंक मैनेजर को गोली मारी, 5 माह में टारगेट किलिंग के 17 मामले******Highlights जम्मू-कश्मीर में एक हिंदी टीचर की गोली मारकर हत्या करने के कुछ दिन बाद ही आतंकियों ने एक हिंदू बैंक मैनेजर विजय कुमार की गोली मारकर हत्या कर दी है। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, मैनेजर बुरी तरह जख्मी हो गए थे। अस्पताल में उन्होंने अंतिम सांस ली। खबरों के मुताबिक बैंक मैनेजर राजस्थान के रहने वाले हैं और चार दिन पहले ही बैंक में ज्वाइन किया था।सुरक्षा की मांग कर रहे कश्मीरी पंडितजम्मू-कश्मीर में टारगेट किलिंग थमने का नाम नहीं ले रही हैं। आतंकवादियों ने अब बैंक में घुसकर मैनेजर को गोली मारने का दुस्साहस किया है। कुलगाम में बैंक में घुसकर राजस्थान के रहने वाले मैनेजर विजय कुमार को गोली मारी गई है। मंगलवार को ही आतंकवादियों ने कुलगाम में ही एक सरकारी स्कूल की टीचर रजनी बाला की गोली मारकर हत्या कर दी थी। इससे पहले बडगाम में तहसील परिसर में घुसकर कर्मचारी राहुल भट की हत्या कर दी थी। उसके बाद से ही कश्मीरी पंडितों का आंदोलन चल रहा है और वे खुद की सुरक्षा तय किए जाने की मांग कर रहे हैं।5 माह में टारगेट किलिंग के 17 मामलेबैंक मैनेजर की इस तरह से हत्या होने के बाद कश्मीर घाटी में स्थानीय हिंदू अल्पसंख्यकों और प्रवासी लोगों में डर बढ़ गया है। इस साल की शुरुआत से ही लगातार टारगेट किलिंग के मामले सामने आ रहे हैं। बीते 5 महीनों में यह 17वां मामला है, जब इस तरह से किसी आम नागरिक या कर्मचारी की हत्या की गई है। बुधवार को ही जम्मू-कश्मीर प्रशासन ने हिंदुओं एवं सिखों को सुरक्षित ठिकानों पर पोस्टिंग देने की बात कही थी, लेकिन अब इस मामले ने चिंताओं को और बढ़ा दिया है। दरअसल बैंक के अंदर घुसकर इस तरह की हत्या किए जाने से यह सवाल उठने लगा है कि आखिर प्रवासी और अल्पसंख्यक कहां सुरक्षित हैं।इस हत्याकांड के बाद जम्मू संभाग में प्रदर्शन शुरू हो गए हैं और लोगों का कहना है कि सरकार को कुछ उपाय करना होगा। यही नहीं उन्होंने कहा कि सरकार सुरक्षित पोस्टिंग की बात कर रही है, लेकिन कश्मीर में कोई भी स्थान हम लोगों के लिए सुरक्षित नहीं है।
2022-09-30 00:09
उद्धरण 3 इमारत
ट्राई ने मोबाइल इंटरनेट योजनाओं के लिए एक साल की अवधि का प्रस्ताव किया****** हर महीने इंटरनेट डाटा रीचार्ज करवाने के झंझट से आपको जल्‍द ही निजाद मिल सकती है। दूरसंचार नियामक ट्राई ने इंटरनेट सेवाओं के मोबाइल रिचार्ज वाउचरों की वैधता अवधि को 90 दिन से बढाकर 365 दिन करने का प्रस्ताव किया है ताकि छोटे ग्राहकों द्वारा इनका इस्तेमाल बढाया जा सके। भारतीय दूरसंचार नियामक प्राधिकार ने एक बयान में यह जानकारी दी है।ट्राई ने कहा है, मुद्दे के विभिन्न पहलुओं का अध्ययन करने के बाद प्राधिकार का मानना है कि मौजूदा 90 दिन के बजाय 365 दिन की वैधता छोटे, पहली बार इस्तेमाल करने वाले व कीमतों पर जोर देने वाले ग्राहकों के लिए फायदेमंद होगी। इस बारे में 26 जुलाई तक आम लोगों से राय मांगी गई है।नोएडा स्थित रिंगिंग बेल्स कंपनी की अब एलईडी टेलीविजन सैट पेश करने की योजना है और कंपनी का दावा है कि यह इलेक्ट्रोनिक्स खंड में कीमतों में क्रांति लाने वाला उत्पाद होगा। उल्लेखनीय है कि रिंगिंग बेल्स 251 रुपए के स्मार्टफोन को लेकर विवादों व चर्चा में आई थी।कंपनी का दावा है कि उसने अपने बहुप्रचारित फ्रीडम 251 मोबाइल फोन की आपूर्ति शुरु कर दी है। हालांकि अभी किसी ग्राहक को फोन मिलने की पुष्टि सामने नहीं आई है। कंपनी ने अपने प्रस्ताव एचडी एलईडी टेलीविजन की कीमत नहीं बताई है लेकिन उसका कहना है कि यह भारतीय उपभोक्ता इलेक्ट्रोनिक्स बाजार में एक और कीमत क्रांति होगी। Poor Speed: ट्राई ने लॉन्च किया मोबाइल इंटरनेट स्पीड मापने वाला एप, कंपनियों के लिए तय होंगे सर्विस क्वालिटी नियमMaking India Digital: देशभर में इंटरनेट कनेक्टिविटी का सपना होगा साकार, BSNL लगाएगी 20,000 Wi-Fi हॉटस्टॉप
वापसी
नई पोस्ट करें
847559
विषयों की संख्या
8199
पदों की संख्या
61803
उपयोगकर्ता संख्या
847559
ऑनलाइन
40