नई पोस्ट करें

भारतीय रिजर्व बैंक ने इन 7 बैंकों पर लगाया 11 करोड़ का जुर्माना, जानिए क्या है पूरा मामला

2022-09-30 00:28:22 196

भारतीयरिजर्वबैंकनेइन7बैंकोंपरलगाया11करोड़काजुर्मानाजानिएक्याहैपूरामामलाJubin Nautiyal: गिरफ्तारी की मांग के बीच जुबिन नौटियाल ने किया ट्वीट, कही दिल जीत लेने वाली बात******Highlightsअपनी गायकी से लाखों करोड़ों लोगों का दिल जीतने वाले सिंगर जुबिन नौटियाल इस समय अपने यूएस कॉन्सर्ट को लेकर चर्चा में बने हुए हैं। दरअसल, ट्विटर पर #ArrestJubinNautiyal ट्रेंड कर रहा था। कई सोसल मीडिया यूज़र्स ने उनके कॉन्सर्ट का पोस्टर शेयर किया जिसे लेकर बवाल खड़ा हो गे है। यूजर्स जुबिन को टैग कर उन्हें खूब खरी खोटी सुनाने लगे। जिसके बाद ये अफवाह फैली कि उनका यूएस टूर कैंसिल कर दिया गया है। इस पूरे मामले में जुबिन नौटियाल ने अब ट्वीट कर अपनी प्रतिक्रिया दी है।दरअसल, सोशल मीडिया की एक पोस्ट पर दावा किया गया है कि जुबिन का एक लाइव कॉन्सर्ट जल्दी ही यूएस में होगा। जिसका ऑर्गेनाइजर जय सिंह भारत का वॉन्टेड क्रिमिनल है। यूजर्स ने जय सिंह पर खालिस्तान के समर्थन का आरोप लगाया। इस अफवाह के बाद जुबिन नौटियाल ने अपने ट्विटर अकाउंट पर अपनी एक तस्वीर शेयर की है। साथ ही उन्होंने लिखा है, हैलो दोस्तों और ट्विटर फैमिली, मैं ट्रेवल कर रहा हूं और अगले पूरे महीने शूटिंग करेंगे। अफवाहों से परेशान न हों। मुझे अपने देश से प्यार है। मैं आप सभी से प्यार करता हूं।बता दें, 23 सितंबर को यूएस में ज़ुबिन नौटियाल के एक कॉन्सर्ट का पोस्टर सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। उनके कॉन्सर्ट में जय सिंह नाम के शख्स को इस इवेंट का ऑर्गनाइज़र बताया जा रहा है। जय सिंह का नाम आते ही हंगामा शुरू हो गया है और लोग जुबिन नौटियाल की गिरफ्तारी की मांग करने लगे। सोशल मीडिया यूजर्स का कहना है कि जय सिंह वॉन्टेड क्रिमिनल है।

भारतीयरिजर्वबैंकनेइन7बैंकोंपरलगाया11करोड़काजुर्मानाजानिएक्याहैपूरामामलाNarendra Modi: प्रधानमंत्री मोदी गुरुवार को केरल पहुंचेंगे, INS विक्रांत को दिखाएंगे हरी झंडी******Highlightsप्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी गुरुवार को दो दिवसीय यात्रा पर केरल पहुंचेंगे, इस दौरान वह कोच्चि मेट्रो के दूसरे चरण की आधारशिला रखेंगे और भारतीय नौसेना के पहले स्वदेशी डिजाइन और निर्मित विमानवाहक पोत INS विक्रांत को भी चालू करेंगे। मोदी गुरुवार को कोच्चि मेट्रो के फेज 1ए के एसएन जंक्शन से वडक्केकोट्टा तक के पहले खंड का भी उद्घाटन करेंगे। कोच्चि मेट्रो रेल परियोजना का प्रस्तावित चरण 2 कॉरिडोर 11.2 किलोमीटर की दूरी तय करेगा और इसमें 11 स्टेशन होंगे। चरण 1 विस्तार कोच्चि मेट्रो रेल लिमिटेड द्वारा सीधे काम का पहला खंड है।चरण 1ए के उद्घाटन के साथ कोच्चि मेट्रो 24 स्टेशनों के साथ 27 किमी की दूरी तय करेगी। मोदी ने यहां 2017 में मेट्रो के पहले चरण का उद्घाटन किया था। मोदी गुरुवार को कोचीन हवाईअड्डे के पास कलाडी गांव में आदि शंकराचार्य के जन्म स्थान आदि शंकराचार्य जन्मभूमि क्षेत्र का दौरा करेंगे। वह यहां रात बिताएंगे और शुक्रवार को आईएनएस विक्रांत को चालू करेंगे।नौसेना की बढ़ेगी ताकतप्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भारत के पहले स्वदेश निर्मित एयरक्राफ्ट कैरियर ‘विक्रांत’ को ‘मेक इन इंडिया’ का बेहतरीन नमूना बताया और इसके समुद्री परीक्षण की ऐतिहासिक उपलब्धि पर नौसेना को बधाई दी। विक्रांत का समुद्र में बहुप्रतीक्षित परीक्षण बुधवार को शुरू हो गया। यह देश में निर्मित सबसे बड़ा और विशालकाय युद्धपोत है। इसे करीब 23,000 करोड़ रुपए की लागत से निर्मित किया गया है। इसका वजन 40,000 टन है। यह एयरक्राफ्ट कैरियर करीब 262 मीटर लंबा और 62 मीटर चौड़ा है। इस पर 30 लड़ाकू विमान और हेलिकॉप्टर तैनात किए जा सकते हैं। एयरक्राफ्ट कैरियर विक्रांत पर मिग-29के लड़ाकू विमानों और केए-31 हेलिकॉप्टरों का एक बेड़ा तैनात किया जाएगा।भारत इसके साथ ही उन चुनिंदा देशों में शुमार हो गया है, जिनके पास स्वदेश में डिजाइन करने, निर्माण करने और अत्याधुनिक एयरक्राफ्ट कैरियर तैयार करने की विशिष्ट क्षमता है। विक्रांत को कोचिन शिपयार्ड लिमिटेड ने बनाया है। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने भी विक्रांत के समुद्र में उतरने को आत्मनिर्भरता के लिए देश के अडिग प्रण की सच्ची गवाही बताया है।भारतीयरिजर्वबैंकनेइन7बैंकोंपरलगाया11करोड़काजुर्मानाजानिएक्याहैपूरामामलाHyundai 2020 तक लॉन्‍च करेगी 8 नई कार व एसयूवी, 2019 में आएगी मेड इन इंडिया इलेक्ट्रिक SUV******hyundaiदक्षिण कोरिया की प्रमुख वाहन निर्माता कंपनी भारत में अपनी 20वीं सालगिराह मना रही है और कंपनी ने कुछ नए लॉन्‍च को लेकर घोषणाएं भी की हैं। पहली घोषणा यह है कि हुंडई इंडिया 2020 तक देश में 8 नई कार लॉन्‍च करेगी। इनमें से दो कार हुंडई को दो नए सेगमेंट में प्रवेश करने में मदद करेंगी, जबकि पांच फुल-मॉडल बदलाव के साथ आएंगी। इन आने वाले आठ मॉडल में एक नई सबकॉम्‍पैक्‍ट और एक इलेक्ट्रिक एसयूवी भी शामिल होगी। कंपनी के एक वरिष्‍ठ अधिकारी ने कहा कि अगले साल के दूसरी छमाही में भारत में मेड इन इंडिया इलेक्ट्रिक एसयूवी पेश करने की योजना है। कंपनी ने कहा कि उसका उद्देश्य भारत के लिए सबसे उपयुक्त और प्रासंगिक इलेक्ट्रिक वाहन लाने के लिए अपनी वैश्विक प्रौद्योगिकी कौशल का लाभ उठाना है। हुंडई मोटर इंडिया के प्रबंध निदेशक और मुख्य कार्यकारी अधिकारी वाई के कू ने कहा कि हम 2019 की दूसरी छमाही में इलेक्ट्रिक एसयूवी पेश करेंगे। हम इसे आयात करेंगे।लंबी अवधि में कंपनी अपनी चेन्नई कारखाने में इलेक्ट्रिक मॉडल का उत्पादन करेगी।कू ने कहा कि कंपनी की योजना 2020 तक देश में आठ नए मॉडल पेश करने और 2021 की पहली तिमाही तक उत्पादन क्षमता को बढ़ाकर 10 लाख सालाना करने की है।हुंडई ने भारत में अपनी यात्रा की शुरुआत सेंट्रो के साथ की थी, जिसमें 1998 में लॉन्‍च किया गया था। 20 साल बाद कंपनी एक नई हैचबैक कार लॉन्‍च करने की तैयारी में है, जिसके बारे में अफवाह हैं कि यह नई सेंट्रो हो सकती है। हालांकि इस नई कार का नाम अभी तक तय नहीं हुआ है और हुंडई 16 अगस्‍त से एक नया डिजिटल विज्ञापन शुरू करेगी जिसमें उपभोक्‍ताओं से नई कार के नाम के बारे में सुझाव मांगे जाएंगे।

भारतीय रिजर्व बैंक ने इन 7 बैंकों पर लगाया 11 करोड़ का जुर्माना, जानिए क्या है पूरा मामला

भारतीयरिजर्वबैंकनेइन7बैंकोंपरलगाया11करोड़काजुर्मानाजानिएक्याहैपूरामामलाCorona Update: बीते 24 घंटे में देश में 1270 नए मामले, इतने लोगों की मौत******Highlightsदेश में कोरोना का खतरा अभी टला नहीं है। बीते 24 घंटे में देश में कोरोना के 1270 नए मामले सामने आए हैं और 31 लोगों की मौत हुई है। इस दौरान 1567 लोग कोरोना से ठीक होकर डिस्चार्ज हुए हैं।देश में कोरोना के कुल मामले 4,30,20,723 हैं और सक्रिय मामले 15,859 हैं। इस दौरान कुल रिकवरी केस 4,24,83,829 हैं और कुल 5,21,035 लोगों की मौत हुई है। इस दौरान वैक्सीनेशन की प्रक्रिया भी तेज है और अब तक 1,83,26,35,673 लोगों का वैक्सीनेशन हो चुका है।इससे पहले रविवार को देश में के 1421 नए मामले सामने आए थे और 149 लोगों की मौत हुई थी।बता दें कि भारत में कल कोरोना वायरस के लिए 4,32,389 सैंपल टेस्ट किए गए। वहीं कुल टेस्टिंग 78,73,55,354 हुई हैं। ये जानकारी भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद (ICMR) ने दी है।बता दें कि चीन में कोरोना के मामले लगातार बढ़ रहे हैं। शंघाई के पुडोंग और आसपास के क्षेत्रों में सोमवार से शुक्रवार तक लॉकडाउन लगाया गया है। चीन में कोरोना के मामले बढ़ना इसलिए भी चिंताजनक है क्योंकि यहीं से कोरोना पूरी दुनिया में फैलने की बात सामने आई थी।कहा जा रहा है कि चीन में बढ़ रहे कोरोना की वजह से एक बार फिर इकोनॉमी पर असर पड़ सकता है, जिससे वस्तुएं महंगी हो सकती हैं। मिली जानकारी के मुताबिक, चीन में इस महीने अब तक 56,000 से अधिक कोरोना के केस सामने आए हैं। इसमें ज्यादातर मामले उत्तरपूर्वी प्रांत से हैं।चीन की कोरोना वैक्सीनेशन की दर लगभग 87 प्रतिशत है। लोगों को घर पर रहने के लिए कहा गया है और वस्तुओं को उनके घरों में पहुंचाने के लिए चेकपॉइंट बनाए गए हैं।भारतीयरिजर्वबैंकनेइन7बैंकोंपरलगाया11करोड़काजुर्मानाजानिएक्याहैपूरामामलाBCCI Age Software: बीसीसीआई उम्र की धोखाधड़ी रोकने के लिए इस सॉफ्टवेयर का करेगा इस्तेमाल, खर्चे में होगी भारी कटौती******भारतीय क्रिकेट बोर्ड (बीसीसीआई) खिलाड़ियों द्वारा होने वाली उम्र धोखाधड़ी को लेकर किसी भी तरह की ढिलाई बरतने की मूड में नहीं है। यही कारण है कि बीसीसीआई ने अगस्त 2020 में अपने पंजीकृत खिलाड़ियों के लिए सही आयु बताने की एक स्वैच्छिक योजना शुरू की थी और साथ ही साथ उसने उम्र की धोखाधड़ी करने वाले क्रिकेटरों को दो साल के लिए प्रतिबंधित करने का प्रावधान भी किया था।बीसीसीआई आयु धोखाधड़ी के लिए शून्य सहिष्णुता की अपनी नीति के तहत हर महत्वपूर्ण कदम उठाने का प्रयास कर रही है। इसे एक कदम आगे बढ़ाने और ज्यादा बेहतर बनाने के लिए वह प्रायोगिक तौर पर उम्र धोखाधड़ी का पता लगाने के लिए मौजूदा 'टीडब्ल्यूथ्री' पद्धति के साथ एक सॉफ्टवेयर का उपयोग करने की तैयारी में है। इसका उद्देश्य नतीजे को तुरंत प्राप्त करने के साथ-साथ लागत में 80 प्रतिशत तक की बचत करना है।बीसीसीआई फिलहाल उम्र निर्धारण के लिए 'टीडब्ल्यूथ्री' पद्धति (बाएं हाथ और कलाई के एक्स-रे पर आधारित) का उपयोग करता है। वर्तमान पद्धति में हर परीक्षण की लागत 2400 रुपये है और इसके परिणाम आने में तीन से चार दिन का समय लगता है जबकि 'बोनएक्सपर्ट सॉफ्टवेयर' का प्रस्तावित उपयोग तात्कालिक परिणाम देगा और लागत केवल 288 रुपये होगी।पूरी प्रक्रिया की व्याख्या करते हुए बीसीसीआई के नोट में कहा गया कि आयु की पुष्टि के लिए बीसीसीआई पर्यवेक्षक की उपस्थिति में खिलाड़ियों की कलाई का एक्स-रे कराता है और फिर राज्य क्रिकेट संघ एक्स-रे कॉपी को बीसीसीआई एवीपी (आयु सत्यापन विभाग) के पास भेजता है। उन्होंने कहा कि बीसीसीआई एवीपी उसे अपने पैनल के दो स्वतंत्र रेडियोलॉजिस्ट को भेजता है। रेडियोलॉजिस्ट इसका आकलन कर अपनी रिपोर्ट बीसीसीआई को सौंपता है और इस पूरी प्रक्रिया में काफी समय लगता है।38 राज्य संघों के खिलाड़ियों की निगरानी के लिए बीसीसीआई के पास चार रेडियोलॉजिस्ट है। इसके मुताबिक, "बोर्ड प्रयोग पर राज्य संघों के साथ काम करेगा। बोर्ड हालांकि अपने डेटाबैंक में सीमित संख्या में एक्स-रे पर चल रहे परीक्षण डेटा से संतुष्ट हैं, फिर भी हम इससे पूरी तरह संतुष्ट होने के लिए सभी संघों में बड़ी संख्या में एक्स-रे (लगभग 3800) के साथ सॉफ्टवेयर की जांच करना चाहते है।"गौरतलब है कि बीसीसीआई के अंतर्गत आने वाले टूर्नामेंट में कई बार आयु वर्ग के टूर्नामेंटों में कई बार धोखाधड़ी के मामले सामने आए हैं। जून 2019 में, जम्मू और कश्मीर के तेज गेंदबाज रसिख सलाम को गलत जन्म प्रमाण पत्र जमा करने का दोषी पाए जाने के बाद दो साल के लिए प्रतिबंधित कर दिया गया था। इससे पहले अंडर-19 विश्व कप स्टार मंजोत कालरा, कोलकाता नाइट राइडर्स और दिल्ली के बल्लेबाज अंकित बावने उन क्रिकेटरों में शामिल हैं जिन्हें अपनी उम्र छुपाने का दोषी पाया गया है।भारतीयरिजर्वबैंकनेइन7बैंकोंपरलगाया11करोड़काजुर्मानाजानिएक्याहैपूरामामलाचीन को पछाड़ सबसे ज्यादा आबादी वाला देश बनने से भारत को हो सकता है फायदा, UNSC की स्थायी सीट मिलने के बढ़ेंगे चांस, जानिए कैसे******Highlights भारत अगर 2023 में चीन को पछाड़कर दुनिया में सबसे ज्यादा आबादी वाला देश बन जाता है, तो इससे संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की स्थायी सदस्यता की उसकी दावेदारी को बल मिल सकता है। संयुक्त राष्ट्र जनसंख्या प्रखंड के एक शीर्ष अधिकारी ने यह बात कही है। ‘विश्व जनसंख्या संभावना 2022’ रिपोर्ट में कहा गया कि भारत के सर्वाधिक जनसंख्या वाले देश के रूप में अगले साल चीन को पीछे छोड़ देने की उम्मीद है। यह रिपोर्ट सोमवार को जारी की गई है। इसके मुताबिक 2022 में भारत की जनसंख्या 1.412 अरब है जबकि चीन की आबादी 1.426 अरब है।भारत 2023 तक दुनिया के सबसे अधिक आबादी वाले देश के रूप में चीन को पछाड़ देगा और उसकी आबादी अनुमान के मुताबिक 2050 में 1.668 अरब होगी, जो सदी के मध्य तक चीन की अनुमानित 1.317 अरब आबादी से बहुत आगे है। संयुक्त राष्ट्र के सामाजिक व आर्थिक मामलों के विभाग के जनसंख्या प्रखंड द्वारा जारी रिपोर्ट में कहा गया कि वैश्विक जनसंख्या 15 नवंबर, 2022 को आठ अरब तक पहुंचने का अनुमान है। वैश्विक जनसंख्या 1950 के बाद से सबसे धीमी गति से बढ़ रही है। वर्ष 2020 में यह घटकर एक प्रतिशत से भी कम रह गई।संयुक्त राष्ट्र के सामाजिक व आर्थिक मामलों के विभाग (डीईएसए) के जनसंख्या प्रखंड के निदेशक जॉन विल्मोथ ने सोमवार को कहा कि सबसे ज्यादा आबादी वाले देश के रूप में उभरने से भारत का ‘कुछ चीजों पर दावा’ हो सकता है। रिपोर्ट को जारी करने के अवसर पर एक संवाददाता सम्मेलन के दौरान भारत के चीन से आगे निकलने के प्रभाव से जुड़े एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा, ‘दुनिया में सबसे बड़ी आबादी होने का क्या महत्व है? मुझे लगता है कि चीजों पर आपके कुछ दावे हैं। मुझे आश्चर्य है कि चारों ओर चर्चा के संदर्भ में क्या होगा। संयुक्त राष्ट्र में भूमिकाएं और सुरक्षा परिषद के स्थायी पांच सदस्यों की भूमिकाएं।’उन्होंने कहा, ‘यदि भारत सबसे बड़ा (आबादी के लिहाज से) देश बन जाता है, तो वे सोच सकते हैं कि इससे इसका हिस्सा होने संबंधी उनका दावा मजबूत हो जाता है। वे दावा करते रहे हैं कि उन्हें वैसे भी उस समूह (सुरक्षा परिषद के स्थायी सदस्य) का हिस्सा होना चाहिए। लेकिन, आप जानते हैं, इससे उनके दावे को निश्चित रूप से मजबूती मिल सकती है।’ भारत सुरक्षा परिषद में सुधार के लिए वर्षों से हो रहे प्रयासों में सबसे आगे रहा है। उसका दावा है कि वह सुरक्षा परिषद के स्थायी सदस्य के रूप में स्थान पाने का हकदार है, जो अपने वर्तमान स्वरूप में 21वीं सदी की भू-राजनीतिक वास्तविकताओं का प्रतिनिधित्व नहीं करती है।संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद यानी यूएनएससी की स्थापना साल 1945 में हुई थी। ये यूएन के छह प्रमुख अंगों में से एक है। यूएनएससी का मुख्यालय अमेरिका के न्यूयॉर्क शहर में है। इसके सदस्यों की बात करें, तो वह दो तरह के होते हैं। स्थायी और अस्थायी। जिनकी कुल संख्या 15 होती है। इनमें 10 अस्थायी सदस्य होते हैं, जिनका कार्यकाल दो साल का है। जबकि 5 स्थायी सदस्य हैं। ये पांच स्थायी सदस्य अमेरिका, रूस, फ्रांस, चीन और ब्रिटेन हैं।

भारतीय रिजर्व बैंक ने इन 7 बैंकों पर लगाया 11 करोड़ का जुर्माना, जानिए क्या है पूरा मामला

भारतीयरिजर्वबैंकनेइन7बैंकोंपरलगाया11करोड़काजुर्मानाजानिएक्याहैपूरामामलाMoong Dal In Diabetes: डायबिटीज को कंट्रोल करना है तो जरूर खाएं मूंग की दाल, जानें इस्तेमाल का सही तरीका******देश में डायबिटीज मरीजों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है, जिसकी मुख्य वजह गलत खानपान और खराब लाइफस्टाइल है। इस बीमारी से न सिर्फ बुजुर्ग बल्कि युवा भी इसकी गिरफ्त में आ रहे हैं। अगर समय रहते इसे कंट्रोल न किया जाए तो यह आपके सेहत के लिए खतरनाक साबित हो सकता है। ऐसे में आप चाहे को इसे सही खानपान से भी कंट्रोल कर सकते हैं।डॉक्टर के अनुसार, अगर खाने-पीने का सही ध्यान रखा जाए, तो दवाओं की जरूरत कम पड़ती है। वैसे तो मधुमेह के रोगियों को चावल, रोटी आदि कम खाने की सलाह दी जाती है और दाल अधिक मात्रा में खाने के लिए कहा जाता है। लेकिन इसमें भी ये आपको जानना बेहद जरूरी है कि कौन की दाल शुगर मरीजों के लिए लाभदायक है। तो आपको बता दें कि डायबिटीज मरीजों के लिए प्रोटीन से भरपूर मूंग की दाल सबसे अच्छी मानी जाती है। आइए जानते हैं मूंग की दाल डायबिटीज मरीजों के लिए किस तरह से फायदेमंद है। साथ ही जानिए इसके सेवन का सही तरीका।डायबिटीज के मरीजों के लिए मूंग दाल का सेवन करना काफी फायदेमंद माना जाता है। इसमें कई ऐसे गुण पाए जाते हैं जो ब्लड शुगर लेवल को कंट्रोल रखने में मदद करते हैं। इसके अलावा मूंग दाल एक लो-ग्लाइसेमिक इंडेक्स फूड है जो शरीर में इंसुलिन, ब्लड शुगर और फैट लेवल को कम करने में सहायक है।आप चाहे तो मूंग की दाल बनाकर भी खा सकते है। लेकिन डॉक्टर मूंग को दूसरे तरीके से खाने की सलाह देते हैं यानी अंकुरित मूंग। इसके लिए पहले मूंग को रात भर भिगोकर रख दें। फिर इस अंकुरित मूंग को सुबह-सुबह नाश्ते के रूप में खाएं। ऐसा करना आपके लिए बेहद लाभदायक साबित होगा।भारतीयरिजर्वबैंकनेइन7बैंकोंपरलगाया11करोड़काजुर्मानाजानिएक्याहैपूरामामलाLive streaming, IPL 2022 KKR vs RCB : जानें कब, कहां और कैसे देखें केकेआर और आरसीबी के बीच का मैच******इंडियन प्रीमियर लीग 2022 का छठा मुकाबला कोलकाता नाइट राइडर्स और रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के बीच खेला जाएगा। दोनों टीमों का टूर्नामेंट यह दूसरा मुकाबला होगा। केकेआर ने लीग में अपनी शुरुआत चार बार की चैंपियन टीम चेन्नई सुपर किंग्स को हरा कर की थी। वहीं आरसीबी को उसके पहले ही मैच में पंजाब किंग्स के हाथों करारी हार का सामना करना पड़ा था।आरसीबी ने पंजाब के खिलाफ बेहतरीन अंदाज में खेलते हुए 205 रन का विशाल स्कोर तो जरूर खड़ा किया था लेकिन कमजोर गेंदबाजी के कारण टीम इस इसका बचाव नहीं कर सकी थी। वहीं केकेआर ने सीएसके के खिलाफ लक्ष्य का पीछा करते हुए जीत हासिल की थी। वहीं गेंदबाजी में भी खिलाड़ियों ने दमदार प्रदर्शन किया था।ऐसे में आइए जानते हैं दोनों टीमों के बीच खेले जाने वाले सीजन-15 के छठे मैच से जुड़ी कुछ अहम जानकारियां-केकेआर और आरसीबी के बीच आईपीएल 2022 का छठा मैच 30 मार्च को डी वाई पाटिल स्पोर्ट्स एकेडमी, मुंबई में खेला जाएगा।केकेआर और आरसीबी के बीच मुकाबले की शुरुआत शाम 7 बजकर 30 मिनट पर होगी, जबकि 7 बजे टॉस किया जाएगा।केकेआर और आरसीबी के बीच मुकाबले का लाइव टेलीकास्ट स्टार स्पोर्ट्स 1, स्टार स्पोर्ट्स 1 एचडी, स्टार स्पोर्ट्स 3 और स्टार स्पोर्ट्स 3 एचडी पर किया जाएगा।केकेआर और आरसीबी के बीच मुकाबले का लाइव स्ट्रीमिंग Disney+ Hotstar, Jio TV, और, Airtel TV देखा जा सकता है।

भारतीय रिजर्व बैंक ने इन 7 बैंकों पर लगाया 11 करोड़ का जुर्माना, जानिए क्या है पूरा मामला

भारतीयरिजर्वबैंकनेइन7बैंकोंपरलगाया11करोड़काजुर्मानाजानिएक्याहैपूरामामलाटाटा की हुई आज चांदी, वापस मिली एयर इंडिया वहीं TCS को Q2 में 9624 करोड़ रुपये मुनाफा******TCS को Q2 में 9624 करोड़ रुपये मुनाफानई दिल्ली। टाटा ग्रुप के लिये आज का दिन काफी खास रहा है। आज ही टाटा संस ने कर्ज में डूबी सरकारी एयरलाइन एयर इंडिया के अधिग्रहण की बोली जीत ली है। वहीं समूह की एक अन्य कंपनी टीसीएस ने अपने तिमाही मुनाफे में 14 प्रतिशत से ज्यादा बढ़त की जानकारी दी है। कंपनी के मुताबिक सितंबर में खत्म हुई तिमाही के दौरान उसे 9600 करोड़ रुपये से ज्यादा का मुनाफा हुआ है। टीसीएस में टाटा समूह की 71.9 प्रतिशत हिस्सेदारी है।आज जारी हुए नतीजों के मुताबिक देश की सबसे बड़ी आईटी कंपनी टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज का सितंबर में खत्म हुई तिमाही के दौरान कंसोलिडेटेड नेट प्रॉफिट 9624 करोड़ रुपये रहा है जो कि पिछले साल के मुकाबले 14.1 प्रतिशत ज्यादा है। इस अवधि के दौरान कंसोलिडेटेड आय पिछले साल के मुकाबले 16.8 प्रतिशत की बढ़त के साथ 46867 करोड़ रुपये के स्तर पर पहुंच गयी। इस दौरान अन्य आय में भी 21.6 प्रतिशत की बढ़त देखने को मिली है। पिछली तिमाही के मुकाबले मुनाफे में 6.8 प्रतिशत और आय में 3.2 प्रतिशत की बढ़त रही है। आंकड़ों के अनुसार एबिट (Earnings before Interest and Tax) मार्जिन 25.60 प्रतिशत पर रहा है। मार्जिन में पिछली तिमाही के मुकाबले 0.1 प्रतिशत की बढ़त रही है, हालांकि पिछले साल के मुकाबले मार्जिन 0.6 प्रतिशत बढ़ा है। कंपनी ने जानकारी दी है कि तिमाही के दौरान उसने 10 करोड़ डॉलर से बड़ी कैटेगरी में 5 नये क्लाइंट जोड़े हैं। वहीं 5 करोड़ डॉलर के अधिक की कैटेगरी में 17 नये क्लाइंट जोड़े हैं। वहीं नॉर्थ अमेरिका में कंपनी के कारोबार में 17.4 प्रतिशत की बढ़त दर्ज हुई है। वहीं यूके में कारोबार 15.6 प्रतिशत की दर से बढ़ा है। घरेलू कारोबार में 20.1 प्रतिशत की ग्रोथ रही है। इसके साथ ही कंपनी ने 7 रुपये प्रति शेयर डिविडेंड का ऐलान किया है।सरकार ने आज जानकारी दी है कि टाटा संस ने कर्ज में डूबी सरकारी एयरलाइन एयर इंडिया के अधिग्रहण की बोली जीत ली है। अधिग्रहण की दौड़ में टाटा संस ने स्पाइसजेट के प्रवर्तक अजय सिंह को पीछे छोड़ा । टाटा की 18,000 करोड़ रुपये की बोली में 15,300 करोड़ रुपये का कर्ज लेना और बाकी का नकद भुगतान करना शामिल है। बोली जीतने के बाद रतन टाटा ने एक बयान में कहा कि कर्ज में डूबी एयर इंडिया को पटरी पर लाने के लिये काफी प्रयास की जरूरत होगी, लेकिन यह जरूर है कि टाटा समूह के विमानन उद्योग में मौजूदगी को यह मजबूत व्यवसायिक अवसर उपलब्ध कराएगी।’’ जेआरडी टाटा ने 1932 में एयरलाइन की स्थापना की। तब इसे टाटा एयरलाइंस कहा जाता था। 1946 में टाटा संस के विमानन प्रभाग को एयर इंडिया के रूप में सूचीबद्ध किया गया था और 1948 में एयर इंडिया इंटरनेशनल को यूरोप के लिए उड़ानों के साथ शुरू किया गया था। अंतरराष्ट्रीय सेवा भारत में पहली सार्वजनिक-निजी भागीदारी में से एक थी, जिसमें सरकार की 49 प्रतिशत, टाटा की 25 प्रतिशत और जनता की शेष हिस्सेदारी थी। 1953 में एयर इंडिया का राष्ट्रीयकरण किया गया था।यह भी पढ़ें:

भारतीयरिजर्वबैंकनेइन7बैंकोंपरलगाया11करोड़काजुर्मानाजानिएक्याहैपूरामामलाJharkhand Lawyer Arrested: कोलकाता में झारखंड हाईकोर्ट का वकील गिरफ्तार, 50 लाख रुपये बरामद******Highlights झारखंड की राजधानी रांची के एक अधिवक्ता को कथित रूप से धोखाधड़ी के मामले में शामिल होने को लेकर कोलकाता में गिरफ्तार किया गया और उसके पास से 50 लाख रुपये जब्त किएगये। अधिवक्ता को एक मॉल से गिरफ्तार किया गया। कोलकाता पुलिस के जासूसी विभाग के एक वरिष्ठ अधिकारी ने इसकी जानकारी दी।अधिकारी ने कहा कि धोखाधड़ी के मामले में कथित तौर पर शामिल अधिवक्ता को शहर के मध्य भाग के हरे स्ट्रीट इलाके में स्थित एक मॉल से रविवार को गिरफ्तार किया गया। उन्होंने कहा कि आरोपी की पहचान झारखंड हाईकोर्ट के मौजूदा पेशेवर अधिवक्ता के रूप में हुई है। एक अन्य पुलिस अधिकारी के मुताबिक, कुमार ने झारखंड हाईकोर्ट में शहर के एक व्यवसायी के खिलाफ एक जनहित याचिका दायर की थी और उसे पैसे के लिए ब्लैकमेल कर रहा था।अधिकारी ने कहा, ‘‘वकील ने पहले जनहित याचिका को वापस लेने के लिए व्यवसायी से 10 करोड़ रुपये की मांग की, फिर मांग को घटाकर 4 करोड़ रुपये किया और अंत में एक करोड़ रुपये में मामले को निपटाने के लिए तैयार हो गया।’’ उन्होंने कहा, ‘‘ऐसा लगता है कि गिरफ्तार व्यक्ति यहां पैसे लेने आया था। जब्त की गई राशि उसकी मांग का एक हिस्सा है।’’ अधिकारी ने बताया कि गिरफ्तारी के समय आरोपी वकील अपने बेटे के साथ था।वकील ने कई सालों के दौरान कई जनहित याचिकाएं दायर की हैं, जिनमें से एक कथित तौर पर झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के खिलाफ खनन मामले में कथित अनियमितताओं से संबंधित है। आरोपी के खिलाफ झारखंड के विभिन्न थानों में कथित तौर पर लोगों को ब्लैकमेल करने और लाखों रुपये ठगने की शिकायत दर्ज कराई गई है। इस बीच, झारखंड हाईकोर्ट के अधिवक्ता संघ से जुड़े सदस्यों ने गिरफ्तारी के विरोध में सोमवार को काम का बहिष्कार किया।भारतीयरिजर्वबैंकनेइन7बैंकोंपरलगाया11करोड़काजुर्मानाजानिएक्याहैपूरामामलाShahjahanpur Rape Case: रेप के बाद जन्मे बेटे ने 28 साल बाद बलात्कारी को ढूंढ निकाला, दिलाया मां को न्याय******Highlights उत्तर प्रदेश के जिले में 12 साल की उम्र में गैंगरेप की शिकार हुई महिला को 28 साल बाद न्याय मिला है। 12 साल की लड़की से रेप के 27 साल बाद पुलिस ने इसकी FIR दर्ज की और मामला दर्ज करने के साल भर बाद एक आरोपी गुड्डू को गिरफ्तार किया गया। वहीं दूसरा आरोपी उसका सगा भाई नकी हसन जो कि फरार था उसे भी पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। आरोपी के भाई को गिरफ्तार किए जाने के एक हफ्ते बाद यह गिरफ्तारी हुई है।28 साल पहले 12 वर्षीय नाबालिग के साथ हुए रेप के मामले में पुलिस ने इसी साल एक अगस्त को आरोपी गुड्डू को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था। इसी मामले में शामिल गुड्डू के सगे भाई और दूसरे आरोपी नकी हसन को भी रेलवे स्टेशन के बाहर से बुधवार को गिरफ्तार कर लिया गया है।शाहजहांपुर में ही रहने वाली 12 साल की बच्ची के साथ दो सगे भाइयों ने किया था जिसके बाद उसने एक बेटे को जन्म दिया। जब बेटे ने मां से अपने पिता का नाम पूछा, तब सच्चाई सामने आई और कोर्ट के आदेश पर 4 मार्च, 2021 को थाना सदर बाजार में आरोपियों के विरुद्ध मामला दर्ज किया गया। घटना के समय पीड़िता की उम्र 12 साल थी और रिपोर्ट दर्ज होने के बाद आरोपी गुड्डू और नकी हसन एवं पीड़िता और उसके बेटे का DNA टेस्ट कराया गया जिसका मिलान हो गया। इसके बाद एक आरोपी गुड्डू को पुलिस ने गिरफ्तार करके जेल भेज भेज दिया था जबकि दूसरे आरोपी की आज गिरफ्तारी हुई।पीड़िता सदर बाजार थाना क्षेत्र में अपने बहन-बहनोई के यहां रहती थी, उसी दौरान नकी हसन और उसके छोटे भाई गुड्डू ने उसके साथ रेप किया जिससे वह प्रेग्नेंट हो गई और 1994 में उसने एक बेटे को जन्म दिया। बाद में उसने बच्चे को उधमपुर हरदोई में रहने वाले एक परिचित व्यक्ति को दे दिया था। पीड़िता के बहनोई का ट्रांसफर रामपुर जिले में होने पर बहनोई ने पीड़िता का विवाह गाजीपुर के एक व्यक्ति से कर दिया, लेकिन पति को रेप की घटना का पता चलने पर उसने पीड़िता से संबंध खत्म कर लिया। इसके बाद महिला लखनऊ आकर रहने लगी।उधर, पीड़िता के बेटा बड़ा हो गया और उसने अपने अभिभावक से अपने माता-पिता के बारे में पूछा तब उसे पीड़िता के पास शाहजहांपुर पहुंचा दिया गया। मां से मिलने के बाद उसने अपने पिता का नाम पूछा जिसके बाद मां ने कोर्ट के आदेश पर दोनों आरोपियों के खिलाफ केस दर्ज कराया। पुलिस ने दोनों आरोपियों के डीएनए टेस्ट कराया, जिसके बाद आरोपी गुड्डू का डीएनए टेस्ट पॉजिटिव पाया गया। इस मामले में पुलिस ने आरोपी गुड्डू को ढूंढ निकाला और उसे गिरफ्तार कर लिया।

भारतीयरिजर्वबैंकनेइन7बैंकोंपरलगाया11करोड़काजुर्मानाजानिएक्याहैपूरामामलाक्या होती है ‘इंटरनेशनल पैरेंटल किडनैपिंग’? मामले में भारतीय मूल का अमेरिकी नागरिक दोषी करार, सजा में कैद और 2 करोड़ का जुर्माना******Highlights अमेरिका की एक अदालत ने एक भारतीय-अमेरिकी नागरिक को अमेरिका में जन्मे अपने बच्चे को भारत ले जाने और फिर अमेरिका में उसकी मां के पास उसे वापस न लाने के मामले में ‘इंटरनेशनल पैरेंटल किडनैपिंग’ का दोषी ठहराया है। वडोदरा के अमित कुमार कनुभाई पटेल को पिछले सप्ताह न्यूजर्सी में कैमडेन संघीय अदालत में अमेरिकी जिला न्यायाधीश रेनी मैरी बंब ने पांच दिन तक चली सुनवाई के बाद ‘इंटरनेशनल पैरंटल किडनैपिंग’ का दोषी ठहराया गया था। पटेल पहले न्यू जर्सी के एडिसन में रहते थे। ‘इंटरनेशनल पैरंटल किडनैपिंग’ का दोषी पाए जाने पर अधिकतम तीन साल की सजा और अधिकतम 2,50,000 डॉलर का जुर्माना लगाने का प्रावधान है। पटेल को मामले में इस साल नवंबर में सजा सुनाई जाएगी।अमेरिकी अटार्नी फिलिप आर. सेलिंगर ने सोमवार को बताया कि पटेल को बच्चे का अपहरण करने, बच्चे की मां के अधिकारों को बाधित करने और अमेरिका में बच्चे को वापस लाने में विफल रहने का दोषी ठहराया गया है। इस मामले में दायर दस्तावेजों और मुकदमे के साक्ष्य के अनुसार, बच्चे की मां और पटेल के बीच संबंध थे और दोनों अगस्त 2015 से जुलाई 2017 तक न्यूजर्सी में साथ रहते थे। दोनों ने कभी शादी नहीं की। नवंबर 2016 में उनका एक बच्चा हुआ। बच्चे की मां के अनुसार, पटेल बच्चे को भारत ले जाकर अपने परिवार से मिलवाना चाहते थे और डीएनए जांच करवाना चाहते थे। पटेल का कहना था कि उनकी पारिवारिक संपत्ति हासिल करने के लिए यह जरूरी है।बच्चे की मां से पटेल ने बच्चे का भारत का वीजा लेने के लिए भी कहा। पटेल ने बच्चे की मां से कहा था कि वह अदालत के समक्ष कहे कि उनके बीच बच्चे के संरक्षण को लेकर आपसी सहमति बन चुकी है। पटेल ने कहा था कि वह अदालत में कहे कि उसके पास काम करने की अनुमति नहीं है इसलिए वह बेरोजगार है और बच्चे का ध्यान नहीं रख सकती। मई 2017 में, पटेल बच्चे की मां को न्यूजर्सी सुपीरियर कोर्ट ले गया, ताकि बच्चे के संरक्षण संबंधी सभी अधिकार केवल उसे मिल सकें। बच्चे की मां के अनुसार, मामले की अधिकतर सुनवाई अंग्रेजी भाषा में की गई। वह भी बिना अनुवादक के। महिला का दावा है कि वह इस दौरान बेहद कम अंग्रेजी बोली। मां ने पटेल के निर्देशानुसार ही सभी सवालों के जवाब दिए। सुनवाई के दौरान उनका प्रतिनिधित्व करने के लिए कोई वकील भी नहीं था।न्यूजर्सी सुपीरियर कोर्ट ने बच्चे की मां की सहमति के आधार पर केवल पटेल को बच्चे के संरक्षण संबंधी सभी अधिकार (सोल कस्टडी) दे दिए थे, लेकिन साथ ही मां के लिए भविष्य में संयुक्त संरक्षण हासिल करने के वास्ते अनुरोध करने का विकल्प खुला रखा था। अदालत के आदेश के बाद पटेल ने अपने और बच्चे के लिए भारत का वीजा लिया और मां को यह कहकर भारत चला गया कि वह दो सप्ताह या एक महीने में लौट आएगा। पटेल जुलाई 2017 में बच्चे को भारत ले गया और कुछ दिन बाद मां को फोन करके कहा कि वह बच्चे को अब कभी अमेरिका वापस नहीं लाएगा। इसके बाद बच्चे की मां ने कानूनी सलाह ली और दोबारा न्यूजर्सी सुपीरियर कोर्ट का रुख किया।न्यूजर्सी सुपीरियर कोर्ट ने अक्टूबर 2018 में पटेल को तत्काल बच्चे को अमेरिका लाने का निर्देश दिया। मां के वकील ने पारिवारिक अदालत का आदेश पटेल को ई-मेल किया, लेकिन वह बच्चा लेकर अमेरिका नहीं आया। अक्टूबर 2020 में पटेल और बच्चा भारत से ब्रिटेन रवाना हुए। वहां पहुंचते ही अमेरिका के गिरफ्तारी अनुरोध के आधार पर पटेल को गिरफ्तार कर लिया गया। ‘हेग कन्वेंशन’ के तहत लंदन की एक अदालत ने सुनवाई के बाद आदेश दिया कि यह बच्चे के सर्वोत्तम हित में है कि उसे भारत में उसके दादा-दादी के पास भेज दिया जाए। पटेल को सितंबर 2021 में अमेरिका प्रत्यर्पित कर दिया गया, ताकि उनके खिलाफ सुनवाई पूरी की जा सके।भारतीयरिजर्वबैंकनेइन7बैंकोंपरलगाया11करोड़काजुर्मानाजानिएक्याहैपूरामामलासेलिना गोमेज सहित कई इंटरनेशनल फीमेल सिंगर्स को पछाड़ नेहा कक्कड़ ने अपने नाम किया ये रिकॉर्ड, पढ़िए पूरी खबर******बॉलीवुड सिंगर नेहा कक्कड़ अपने गानों से सभी का दिल जीत चुकी हैं। नेहा सोशल मीडिया पर काफी एक्टिव रहती हैं। वह आजकल कई मजेदार वीडियो शेयर करती रहती हैं। सबको एंटरटेन करने वाली नेहा कक्कड़ ने अपने नाम एक रिकॉर्ड कर लिया है। नेहा का नाम 2019 में दुनियाभर में सबसे ज्यादा देखे जाने वाली महिला आर्टिस्ट की लिस्ट मे शामिल है। नेहा ने इस लिस्ट में दूसरे नंबर पर अपनी जगह बनाई है। उन्होंने सोशल मीडिया पर पोस्ट शेयर कर इस बात की जानकारी दी है।नेहा कक्कड़ ने सोशल मीडिया पर एक्स एक्ट्रस चार्ज की लिस्ट शेयर की है। जिसमें उन्होंने कई इंटरनेशनल सिंगर्स को पीछे छोड़ दूसरे नंबर पर जगह बनाई है। केरल जी, ब्लैकपिंक, सेलेना गोमेज, बिलि एलिस, ग्रैंड जैसी जैसी पॉपुलर सिंगर्स को पछाड़ा है। नेहा कक्कड़ ने 4.5 बिलियन व्यूज के साथ दूसरे नंबर पर जगह बनाई है। इस लिस्ट में 4.8 बिलियन व्यूज के साथ पहले नंबर पर कार्डी बी हैं।नेहा ने पोस्ट शेयर करते हुए लिखा-आपका धन्यवाद कैसे करुं। जय माता दी। आपकी नेहू। नेहा कक्कड़ के इस पोस्ट पर कई सेलिब्रिटीज ने कमेंट करके उन्हें बधाई दी है।वर्कफ्रंट की बात करें तो नेहा कक्कड़ अपने भाई टोनी और बहन सोनू के साथ एक सिंगिंग रिएलिटी शो लॉकडाउन सिंगिंग सुपरस्टार लेकर आ रही हैं। इस शो में कंटेस्टेंट के साथ तीनो भाई-बहन के लाइफस्टाइल के बारे में दिखाया जाएगा।

भारतीयरिजर्वबैंकनेइन7बैंकोंपरलगाया11करोड़काजुर्मानाजानिएक्याहैपूरामामलाअमित मिश्रा ने शाहिद अफरीदी को दिया मुंहतोड़ जवाब, पाकिस्तानी क्रिकेटर के 'जन्म' पर उठा दिए सवाल******Highlightsशाहिद अफरीदी (Shahid Afridi) अक्सर अपने बेतुकी बयानबाजी और भारतीय मसलों में हस्तक्षेप करने की आदत को सुधार नहीं पाते हैं। इसी बीच उन्होंने बुधवार को टेरर फंडिंग के आरोपी यासीन मलिक (Yasin Malik) के समर्थन में ट्वीट करते हुए भारत के खिलाफ जहर उगला। अफरीदी के इस ट्वीट पर भारतीय क्रिकेटर अमित मिश्रा (Amit Mishra) ने कमेंट किया और उनको मुंहतोड़ जवाब भी दिया। अमित ने अफरीदी की जन्म की तारीख का मामला उठाया और उन्हें लताड़ लगा दी।अमित मिश्रा ने शाहिद अफरीदी के ट्वीट पर उनको लताड़ लगाते हुए लिखा कि,'यासीन ने खुद अपना गुनाह कोर्ट में कबूल किया है। हर चीज आपके जन्म की तारीख की तरह मिसलीडिंग नहीं होती।' अफरीदी ने यासीन मलिक के ऊपर लगे आरोपों को झूठा बताते हुए कश्मीर का जिक्र किया था और भारत के खिलाफ जहर उगला था। इतना ही नहीं अफरीदी ने इस मामले में संयुक्त राष्ट्र को भी घसीटते हुए संज्ञान लेने की बात कही थी।शाहिद अफरीदी ने यासीन मलिक का समर्थन करते हुए लिखा कि,"YasinMalik के खिलाफ मनगढ़ंत आरोप कश्मीर की आजादी के संघर्ष को रोक नहीं पाएंगे।" यासीन का समर्थन करने और कश्मीर का मुद्दा उठाने के बाद कश्मीर के नेताओं के खिलाफ अनुचित और गैरकानूनी नोटिस का #UN को संज्ञान लेना चाहिए।" गौरतलब है हाल ही में साथी क्रिकेटर दानिश कनेरिया द्वारा लगाए गए आरोपों के बाद भी अफरीदी ने भारत को दुश्मन देश कहा था।दरअसल अक्सर अफरीदी की जन्मतिथी को लेकर विवाद सामने आता है। आईसीसी के मुताबिक उनकी बर्थ डेट 1 मार्च 1980 है। जबकि अपनी किताब में अफरीदी कह चुके हैं कि वह 1975 में पैदा हुए थे। इस हिसाब से अफरीदी की उम्र अब 47 साल होनी चाहिए। वहीं पिछले साल पाकिस्तान के पूर्व क्रिकेटर ने अपने जन्मदिन के अवसर पर सभी की शुभकामनाओं का रिप्लाई करते हुए एक ट्वीट किया था और अपनी उम्र 44 बताई थी। उस लिहाज से इस साल वह 45 के होते।भारतीयरिजर्वबैंकनेइन7बैंकोंपरलगाया11करोड़काजुर्मानाजानिएक्याहैपूरामामलाNEET Exam: सख्ती और चेकिंग के नाम पर छात्राओं के अंडरगारमेंट्स उतरवाए, हिजाब पर भी विवाद******Highlights केरल के कोल्लम से एक हैरान कर देने वाली खबर सामने आई है। यहां NEET (नेशनल एलेजिबिलिटी कम एंट्रेंस टेस्ट) की परीक्षा हो रही है। इस दौरान कोल्लम एग्जाम सेंटर पर सख्ती के नाम पर छात्राओं के अंडरगारमेंट्स तक उतरवा दिए गए। इसको लेकर अब छात्राओं के परिजनों ने पुलिस में मामला दर्ज कराया है। हालांकि कोल्लम के मोर्थम इंस्टीट्यूट ऑफ इनफॉरमेशन टेक्नॉलेजी ने छात्राओं के आरोपों से इनकार किया है। परिजनों की शिकायत पर दर्ज एफआईआर के आधार पर पुलिस इस मामले की जांच में जुट गई है।वहीं राजस्थान के कोटा में भी NEET परीक्षा के दौरान एग्जाम सेंटर और छात्राओं के बीच बहस हो गई। दरअसल, कोटा के मोदी कॉलेज सेंटर पर चार मुस्लिम छात्राएं हिजाब पहनकर पेपर देने पहुंच गईं। इन छात्राओं को पुलिस वालों ने कॉलेज के गेट पर ही रोक लिया। पुलिस ने इस दौरान उन्हें समझाया और ड्रेसकोड का हवाला दिया लेकिन छात्राओं ने हिजाब हटाने से इनकार कर दिया। इस दौरान छात्राओं के परिवार वाले भी हिजाब को लेकर अड़ गए। इसके बाद उनसे लिखित में लिया गया कि परीक्षा को लेकर कोई भी निर्णय होगा, उसके लिए वो खुद जिम्मेदार होंगीं।गौरतलब है कि परीक्षा नियमों के तहत छात्र-छात्राओं को एग्जाम के दौरान फुल आस्तीन के कपड़े पहनने पर मनाहि है। अगर स्टूडेंट ऐसा करते हैं तो उसके आस्तीन को काटने के बाद परीक्षा में बैठने की इजाजत दी जाती है। इतना ही नहीं इस दौरान कुंडल, बाली, घड़ी या अन्य सभी चीजों को उतरवाकर रख लिया जाता है। हालांकि इस बार कोटा में पहली दफा देखने ऐसा हुआ जब दो छात्राएं अपने चेहरे को लपेट कर एग्जाम हॉल में अंदर चली गईं। घुसने से पहले उनकी पूरी तरह से तलाशी ली गई थी।इस दौरान एएसआई गीता देवी ने बताया कि पुलिस ने एग्जाम सेंटर के गेट के बाहर की सुरक्षा व्यवस्था कड़ी कर रखी थी। इसमें से कुछ स्टूडेंट्स ने फुल आस्तीन के कपड़े पहने हुए थे, जिसके बाद उन्हें आस्तीन काटकर अंदर भेजा गया। जिन्होंने हिजाब पहन रखा था उनको साइड में किया था। जब अंदर से आदेश आए इसके बाद ही उन छात्राओं को अंदर प्रवेश दिया गया था। गीता देवी ने बताया कि सेंटर के अंदर तलाशी लेने के लिए संस्था की अलग टीम लगी हुई थी।

नवीनतम उत्तर (2)
2022-09-30 01:11
उद्धरण 1 इमारत
5 हजार रुपये का निवेश कर हर महीने कमाएं 50 हजार रुपये, सरकार करेगी काम शुरू करने में मदद******how to making money with Kulhad making business invest only 5 thousand earn 50000 rupees per monthकोरोना वायरस महामारी के कारण क्‍या आप भी बेरोजगार हो गए हैं, या आपका काम बंद हो गया है तो अब आप सरकार की मदद से फि‍र से अपना एक नया काम शुरू कर सकते हैं। आज हम आपको एक ऐसा बिजनेस आइडिया बताने जा रहे हैं, जिसकी मदद से आप हर महीने अच्‍छीखासी कमाई कर सकते हैं। हम सभी जानते हैं कि भारत में बहुत से लोग चाय के शौकीन हैं। रेलवे स्टेशन, बस डिपो, हवाईअड्डों और शॉपिंग मॉल्‍स में कुल्हड़ की चाय की लगातार मांग बढ़ रही है। ऐसे में आप कुल्हड़ बनाने और बेचने का बिजनेस शुरू कर सकते है। भी इस समय कुल्हड़ की मांग बढ़ाने पर ध्‍यान केंद्रित कर रही है। कुछ समय पहले सड़क और परिवहन मंत्री नितिन गड़करी ने कुल्हड़ को बढ़ावा देने के लिए प्लास्टिक और कागज के कप में चाय देने पर रोक लगाने की मांग की थी। इसके अलावा लोग भी अब अपने स्‍वास्‍थ्‍य के लिए अधिक जागरूक हो गए हैं और वो भी प्‍लास्टिक के कप के बजाये मिट्टी के कुल्‍हड़ को अधिक प्राथमिकता दे रहे हैं।आपको बता दें कि मोदी सरकार ने कुल्हड़ बिजनेस को बढ़ावा देने के लिए कुम्हार सशक्तीकरण योजना को लागू किया है। इस योजना के तहत केंद्र सरकार देशभर के कुम्हारों को बिजली से चलने वाली चाक देती है तो वो इससे कुल्हड़ समेत मिट्टी के बर्तन बना सकें। बाद में सरकार कुम्हारों से इन कुल्हड़ को अच्छी कीमत पर खरीद लेती है।मौजूदा दौर को देखते हुए यह बिजनेस बेहद कम कीमत में शुरू किया जा सकता है। इसके लिए आपको थोड़ी सी जगह के साथ-साथ 5,000 रुपये की जरूरत होगी। खादी ग्रामोद्योग आयोग के चेयरमैन विनय कुमार सक्सेना ने जानकारी दी है कि इस साल सरकार ने 25 हजार इलेक्ट्रिक चाक वितरित किए हैं।चाय का कुल्हड़ बेहद किफायती होने के साथ-साथ पर्यावरण के लिहाज से भी सुरक्षित होता है। मौजूदा दर की बात करें तो चाय के कुल्हड़ का भाव करीब 50 रुपये सैकड़ा है। इसी प्रकार लस्सी के कुल्हड़ की कीमत 150 रुपये सैकड़ा, दूध के कुल्हड़ की कीमत 150 रुपये सैकड़ा और प्याली 100 रुपये सैकड़ा चल रही है। मांग बढ़ने पर इससे अच्छे रेट की भी संभावना है।आज के समय में शहरों में कुल्हड़ वाली चाय की कीमत 15 से 20 रुपये तक भी होती है। अगर बिजनेस को सही तरीके से चलाया जाए और कुल्हड़ बेचने पर ध्यान दिया जाए तो 1 दिन में 1,000 रुपये के करीब बचत की जा सकती है।
2022-09-30 00:12
उद्धरण 2 इमारत
Hindi Diwas 2020: 'हिंदी दिवस' पर अपने सभी करीबियों को भेजें ये बधाई संदेश और भाषा पर करें गर्व******बहुत सी बोलियों और भाषाओं वाले हमारे देश में आजादी के बाद भाषा को लेकर एक बड़ा सवाल आ खड़ा हुआ था। आखिरकार 14 सितंबर 1949 को हिंदी को राजभाषा का दर्जा दिया गया। हालांकि शुरू में हिंदी और अंग्रेजी दोनो को नए राष्ट्र की भाषा चुना गया और संविधान सभा ने देवनागरी लिपि वाली हिंदी के साथ ही अंग्रेजी को भी आधिकारिक भाषा के रूप में स्वीकार किया, लेकिन वह 14 सितंबर 1949 का दिन था, जब संविधान सभा ने हिंदी को ही भारत की राजभाषा घोषित किया। हिंदी दिवस पर आप अपने सभी करीबियों इस मैसेज के द्वारा बधाई दें।हमारी एकता और अखंडता ही हमारे देश की पहचान हैहिंदुस्तानी हैं हम और हिंदी हमारी जुबान हैहिन्दी दिवस पर आप सभी को शुभकामनाएं।।हिंदी है भारत की आशाहिंदी है भारत की भाषाहिंदी दिवस पर आप सभी को हार्दिक शुभकामनाएं।।निजभाषाकानहींगर्वजिसेक्याप्रेम देशसेहोगाउसेवही वीर देशकाप्याराहैहिंदीहीजिसकानाराहैहिंदीदिवसकीशुभकामनाएं।।हिंदी की बिंदी कोमाथे पर सजा कर रखना हैसिर आंखों पर बिठाएंगे इसेयह भारत का गहना हैहिंदी दिवस की शुभकामनाएं।।भारत मां के भाल पर सजी स्वर्णिम बिंदी हूं,मैं भारत की बेटी आपकी अपनी हिंदी हूंहिंदी दिवस पर आप सभी को हार्दिक शुभकामनाएं।।हिंदी भाषा नहीं भावों की अभिव्यक्ति है,यह मातृभूमि पर मर मिटने की भक्ति हैहिंदी दिवस पर आप सभी को हार्दिक शुभकामनाएं।।हम सब का अभिमान है हिंदीभारत देश की शान है हिंदीहिंदी दिवस पर आप सभी को हार्दिक शुभकामनाएं।।
2022-09-29 23:43
उद्धरण 3 इमारत
Lock Upp: तुषार कपूर के साथ शो में एंट्री करेंगी एकता कपूर****** ऑल्ट बालाजी के पांच साल पूरे होने का जश्न मनाने के लिए तुषार कपूर और दिव्या अग्रवाल के साथ निडर रियलिटी शो 'लॉक अप' में प्रवेश करने के लिए पूरी तरह तैयार हैं। एकता अपने भाई तुषार और दोस्त दिव्या के साथ 'लॉक अप' प्रतियोगियों के साथ इस अवसर का जश्न मनाती नजर आएंगी।शो ने 200 मिलियन व्यूज को पार कर लिया है और दर्शकों के लिए मनोरंजक तत्वों के कारण सभी का ध्यान आकर्षित किया है, जिसमें न केवल प्रतियोगियों के बीच झगड़े या बहस शामिल है, बल्कि उनकी भावनात्मक उथल-पुथल भी सामने आती है। यह खेल में बने रहने के लिए एक दूसरे के साथ शो के भीतर अपने रिश्ते को सुधारने के बारे में भी है।एकता कैदियों के साथ बातचीत करेंगी और उनके साथ कुछ मजेदार गतिविधियों की भी योजना बनाई है।इस बीच कई कार्य भी हैं, जो शारीरिक श्रम से शुरू होते हैं, जिसके दौरान कैदी या कैदियों को गोबर के उपले बनाने के लिए कहा जाता था। हारने वाले ब्लॉक को अपने बर्तन साफ करने होंगे। टास्क के दौरान जीशान खान को गोबर और उसकी महक को एडजस्ट करने में दिक्कत होती है। एक भीषण लड़ाई के बाद, बाएं ब्लॉक ने श्रम जीत लिया, और करणवीर और अंजलि को बर्तन धोने की सजा दी जाती है।'लॉक अप' ऑल्ट बालाजी और एमएक्स प्लेयर पर स्ट्रीम होता है।
वापसी